Thursday, July 18, 2019 07:54 AM

बीएसएनएल ने तोदघाटी का छोड़ा साथ

केलांग—दो महीने के जदोजहद के बाद तोद घाटी के कोलोंग पंचायत के  मोबाइल टावर में घंटी बजी थी, लेकिन दो दिन बाद ही यहां व्यवस्था हांफ गई। ऐसे में सैकड़ों मोबाइल धारकों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बीएसएनएल की लचर व्यवस्था के चलते पिछले तीन महीने से इंटरनेट सेवा बाधित है। उधर, तोदघाटी के दारचा पंचायत और चंद्राघाटी की चार पंचायतों में हालात तो बद से बदतर हैं। लाहुल में सर्दियों में तो दूरसंचार व्यवस्था ने लोगों को परेशान किया ही, लेकिन अब मौसम के साफ होने के बाद भी यहां मोबाइल का सिग्नल उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। लाहुल के अधिकतर गांव अभी भी बर्फ की कैद में हैं, लेकिन बीएसएनएल ने घाटी के कुछ क्षेत्रों में व्यवस्था बहाल करने का कुछ दिन पहले युद्ध स्तर पर अभियान शुरू किया था।  तोदघाटी में दो दिन के भीतर ही व्यवस्था हांफ गई और लोगों को फिर परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उधर, बीएसएनएल के सहायक अभियंता शामलाल ने बताया कि मलवा और चट्टान गिरने से भूमिगत केबल क्षतिग्रस्त हो गई है, जिस कारण समस्या आ रही है।