बेड पर आराम फरमाता मिला बाघ

असम में बाढ़ का कहर जारी है और राज्य में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है और 57 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। इस बीच प्रदेश के काजीरंगा स्थित हरमति इलाके के एक घर में उस समय हड़कंप मच गया, जब घरवालों ने घर के बेड पर एक बाघ को आराम फरमाते हुए पाया। सुबह सात बजे बाघ को घर के बेड पर देखकर घरवालों के होश उड़ गए। सभी घर छोड़कर दूर जाकर खड़े हो गए। आनन-फानन में वन विभाग को सूचना दी गई। हालांकि बाघ पर नजर रखी जा रही है, लेकिन उसे अभी तक निकाला नहीं गया है। काजीरंगा के हरमति इलाके में रफीकुल का घर है। सुबह वह अपने घर के एक कमरे में पहुंचे तो दंग रह गए। उन्होंने देखा कि बेड पर एक बाघ आराम कर रहा है। उन्हें समझ नहीं आया। वह डरकर बाहर भागे और घर के अन्य सदस्यों को सूचना दी। उन लोगों ने घर के दरवाजे बाहर से बंद कर दिए। देखते ही देखते यह सूचना इलाके में फैल गई और दर्जनों लोग बाघ के आराम फरमाते हुए देखने के लिए पहुंच गए। वन विभाग की टीम भी पहुंची। टीम बाघ पर निगरानी रख रही है। आपको बता दें कि बाढ़ की चपेट में आए असम में काजीरंगा नेशनल पार्क बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

खाने की तलाश में पहुंचा था घर

अधिकारियों ने बताया कि नेशनल पार्क में पानी भर जाने से बाघ को खाना नहीं मिला होगा और वह खाने की तलाश में घर में गया होगा। यहां पर उसे सूखा बिस्तर मिला तो वह वहां आराम करने लगा होगा। उन्होंने बताया कि शेर को रेस्क्यू कराते समय यह पता चला कि वह भूखा था।