Tuesday, September 17, 2019 04:33 PM

बेशकीमती संपत्तियां बेचने न देगी कांग्रेस

ऊना -प्रदेश सरकार प्रदेश की बेशकीमती संपत्तियों की खुली बोली पर उतर आई है। प्रदेश सरकार के इन बेशकीमती सपंत्तियों को बेचने के प्रयास को कांग्रेस सफल नहीं होने देगी। इसके लिए कांग्रेस द्वारा ‘सेव हिमाचल’ कैंपेन शुरू किया जाएगा। जन आंदोलन भी शुरू किया जाएगा, ताकि प्रदेश सरकार के यह प्रयास सफल नहीं हो पाए। यह बात नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने ऊना में प्रेस वार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लगातार कर्ज ले रही है। कर्ज लेने के सिवाए सरकार के पास कोई विकल्प भी नहीं है, लेकिन अब तो प्रदेश सरकार प्रदेश की बेशकीमती संपत्तियों चायल पैलेस, गोल्फ ग्लेड होटल सहित अन्य संपत्तियों को बेचने पर उतारू हो गई है। वहीं, वाइल्ड फ्लावर हाऊस पहले ही प्रदेश के हाथों से निकल गया है। सरकार द्वारा हिमाचल को बेचने का एक मास्टर प्लान तैयार किया जा रहा है, जो कि प्रदेश की इन संपत्तियों की खुली बोली सरकार के एक मास्टर प्लान का हिस्सा है। प्रदेश सरकार पर्यटन विभाग के 14 होटल व चाय बागान को एक तरह से नीलाम करने पर उतर आई है। मुख्यमंत्री के पास ही यह विभाग है, लेकिन सरकार बताए कि यह फैसला किस स्तर पर हुआ।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पहले भी कहा था कि प्रदेश सरकार इन्वेस्टर मीट के बहाने सरकार द्वारा हिमाचल सेल के प्रयास किए जा रहे हैं, जो कि सही साबित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री को गुमराह कर रहे अफसर

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सीएम के इर्द गिर्द रह रहे गैर हिमाचली अधिकारी उन्हें गुमराह कर रहे हैं। गैर हिमाचली अधिकारी हिमाचल को बेचने पर तुले हुए हैं। कांग्रेस इस तरह के अधिकारियों या फिर सरकार के इन प्रयासों को सफल नहीं होने देगी।