Friday, December 06, 2019 09:43 PM

बेहतरीन कार्यों पर दिया सम्मान

भारत योग पुरस्कार वितरण समारोह में राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने किया सम्मानित

पालमपुर - हरिद्वार अस्पताल योग समिति द्वारा आयोजित भारत योग पुरस्कार वितरण समारोह की अध्यक्षता करते हुए राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि योग शरीर और मस्तिष्क को एक साथ संतुलित करके प्रकृति से जुड़ने का सबसे सुरक्षित माध्यम है। राज्यपाल ने कहा कि दैनिक जीवन में योग को अपनाने की जरूरत है, ताकि हम स्वस्थ जीवन जीकर समाज और राष्ट्र को अपना योगदान दे सकें। उन्होंने कहा कि  तनाव, व्यस्त और अस्वस्थ दिनचर्या में योग करने से सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और ऊर्जावान होते हैं। उन्होंने कहा कि आज योग को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है और 21 जून का दिन अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है। श्री दत्तात्रेय ने समिति द्वारा दिव्यांग बच्चों के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की और आशा जताई कि समिति भविष्य में भी और अधिक गतिविधियां संचालित करेगी और अन्यों के लिए प्रेरणा का काम करेगी। इस अवसर पर राज्यपाल ने योग व अन्य क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों को पुरस्कृत किया। उन्होंने समिति की ओर से दिव्यांग बच्चों को कंबल वितरित किए। इससे पूर्व, समिति के प्रमुख योग गुरु रणजीत सिंह ने राज्यपाल का स्वागत किया और समिति की गतिविधियों से अवगत करवाया। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और योग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया, जिसमें विशेष तौर पर दिव्यांग बच्चों द्वारा दी गई प्रस्तुति ने सब को आकर्षित किया।