Wednesday, September 30, 2020 05:30 AM

बैजनाथ में तहसीलदार की कुर्सी खाली

ट्रांसफर के बाद वैकल्पिक व्यवस्था न होने से लोग झेल रहे दिक्कत

बैजनाथ - बैजनाथ तहसील में तहसीलदार का तबादला होने ब उनकी जगह वैकल्पिक व्यवस्था न किए जाने के कारण उसका खामियाजा जनता को उठाना पड़ रहा है। तहसील में   अपने काम कराने के लिए आने वाले लोगों को निराश होकर वापस जाना पड़ा रहा है। बैजनाथ के तहसीलदार का तबादला  शिमला जिला में हो गया है। चार दिसंबर को उन्हें यहां से उन्हें रिलीव भी  कर दिया है, लेकिन यहां का वैकल्पिक कार्यभार किसी भी अधिकारी को नहीं दिया गया। जिसके चलते गुरुवार को तहसील कार्यालय में दूरदराज से आने वाले लोगों को निराश हो कर वापस जाना पड़ा। गौरतलब है कि तहसीलदार बैजनाथ के पास इस समय तीन-तीन प्रभार दिए गए हैं। तहसील के काम देखने के अतिरिक्त उनके पास शिव मंदिर बैजनाथ और महाकाल मंदिर का भी प्रभार है। जबकि नगर पंचायत बैजनाथ पपरोला के कार्यकारी सचिव की जिम्मेदारी भी उनके ही पास है। तहसीलदार के तबादले से तीनों ही विभागों में कार्यभार प्रभावित हुआ है। अगर तहसीलदार का तबादला यहां से हो गया था और नए तहसीलदार के अभी ऑर्डर नहीं हुए थे तो इसका वैकल्पिक कार्यभार किसी अन्य अधिकारी को भी सौंपा जा सकता था। आज तहसील कार्यालय में अपने राजस्व संबंधी काम कराने और अन्य दस्तावेज बनाने बाले लोग मायूस हो कर वापस चले गए। अब उन्हें अपने कार्य कराने के लिए नई तिथियां दे दी गई हैं। प्रशासन की इस लापरवाही से लोग  वापस अपने घरों को जाने के लिए मजबूर हुए। एसडीएम छवि नांटा का  कहना था कि उन्हें ऊपर से तहसीलदार को तुरंत रिलीव करने के आदेश दिए गए थे।जिसे उन्होंने चार  दिसंबर को रिलीव कर दिया है। वैकल्पिक कार्यभार किसी को नहीं दिया गया है।