Saturday, July 04, 2020 05:04 PM

ब्यास में डूबे सहारनपुर के मजदूर का सुराग नहीं

धर्मपुर-कोरोना के चलते अपने घर सहारनपुर जा रहा एक मजदूर अपने अंधे पिता, बीमार मां और छोटे-छोटे बच्चों से नहीं मिल पाया और छोटी सी असावधानी उसे दुनिया से ही दूर ले गई। घर जाने के लिए कपड़े धोने आया आया और फि सल कर उफ नती लहरों में समा गया, जिसे ढूंढने में रविवार तक भी सफलता नहीं मिल पाई है। एक निजी कंपनी में काम करने वाला नसीम मलिक (31) पुत्र महबूब मलिक निवासी जनपद सहारनपुर गत शुक्रवार को धर्मपुर के सिद्धपुर नामक जगह में ब्यास नदी में डूब गया था, जब वह अन्य साथियों के साथ कपड़े धोने गया था। उसके साथियों का कहना है कि उसी दिन उन्हें घर जाना था। प्रशासन ने तीन साथियों को रोककर बाकी मजदूरों को उत्तर प्रदेश के लिए रवाना कर दिया था। उसके साथी तथा घर से आए चार लोग पुलिस द्वारा चलाए गए सर्च अभियान में तीन दिन से सहयोग कर रहे हैं, लेकिन कोई सफ लता नहीं मिल पा रही। रविवार को माहूंनाग ड्राइविंग एसोसिएशन की पांच सदस्यीय टीम शिव राम की अगवाई में घटनास्थल पर पहुंची और करीब दो सौ मीटर के दायरे में गोते लगाते रहे, लेकिन डूबे युवक का कोई सुराग नहीं मिला।