Wednesday, October 16, 2019 02:21 AM

भाई साब जी केलंगा सेला… पर धमाल

सिस्सू में आयोजित लाहुल उत्सव की सांस्कृतिक संध्या में लोक गायकों ने जमकर नचाए लोग

केलांग -सिस्सू में आयोजित लाहुल उत्सव की दूसरी सांस्कृतिक संध्या में लोक कलाकारों ने लोगों को नचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस दौरान पंडाल में मौजूद लोग जहां पहाड़ी गानों पर जमकर थिरके, वहीं लाहुली गानों का जादू भी लोगों के सिर चढ़ कर बोला। सांस्कृतिक संध्या में सबसे पहले गोशाल के प्रेम सिंह ने भोले भंडारी भजन गाकर अपने कार्यक्रम का अगाज किया।  इसके बाद सेवानिवृत्त डीपीआरओ रामदेव कपूर के बांसुरी की धुन सुनाकर दर्शकों का मन जीता, वहीं प्रेम सिंह ने लाहुली घूरे गाकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। सांस्कृतिक संध्या में सोनम छोकिद के लोक गीत पर पंडाल में बैठी महिलाओं ने जमकर नृत्य किया। इस दौरान लद्दाख के कलाकारों द्वारा आइबेक्स नृत्य पेश किया। लाहुल-स्पीति स्टूडेंट एसोसिएशन के कलाकारों द्वारा लोक नृत्य पेश किया गया, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा। लद्दाख से आए कलाकार ने लदाखी गाना गाकर दर्शकों को झूमने पर मजबूर किया। मयाड़ के आकाश लोनचेनपा ने शाना ओ सवांगला धरती शाना ओ, चली जाना दूरा परदेसा, भाई साब जी केलंगा सेला, चंबा आर कि नदिया पार गीत गा कर माहौल को और रंगीन बना दिया। लाहुल उत्सव की दूसरी सांस्कृतिक संध्या में लोक कलाकारों ने लोगों को नचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस दौरान  शहीद तेनजिंन छोलटिम की याद में एक गीत पेश किया गया। सांस्कृतिक संध्या में लद्दाख की फुंचोंग डोलमा ने भी लद्दाखी गाना पेश किया, वहीं स्थानीय कलाकारा रोजी शर्मा ने गीतों की झड़ी लगाते हुए  अमा जूले, सिस्सू सवांगलो सीरता हो, चिट्टा तेरा चौला, तुम तो ठहरे परदेसी, अंग नाले किरी की फूल रे , जिसपे अंगमो,की रंगा सूटा अंगमो मेरा चला नई जाना हो आदि गीत गाकर लोगों को नाचने पर मजबूर कर दिया। किन्नौर के कलाकार देव पुष्प नेगी ने दूसरी संध्या में भी धमाल मचाया। उन्होंने किनौरी  गीत से अपने कार्यक्रम की शुरुआत की। ठंडा पानी हो पोमो ठंडा पानी स्पीति देश ठंडा पानी गीत गया। शाने हिमाचल रमेश ठाकुर ने लायुल उत्सव की दूसरी सांस्कृतिक संध्या को रंगीन बनाते हुए दर्शकों का खूब मन मोहा। यहां बता दें कि लायुल उत्सव द मिलन 2019 की दूसरी संध्या में कृषि मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। उन्होंने द्वीप प्रज्वलित कर दूसरी सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि  इस साल 25 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल विहारी बाजपेयी के जन्मदिन पर रोहतांग सुरंग का विधिवत उद्घाटन होगा। उन्होंने कहा कि लाहुल के हर किसान को घास कटाई मशीन दी जाएगी। सिस्सू में रंगमंच बनाने के लिए पांच लाख रुपए की राशि देने की भी उन्होंने घोषणा की। उन्होंने इस दौरान ऐच्छिक निधि से 51 हजार रुपए कमेटी को उत्सव कमेटी को दिए।