Wednesday, September 18, 2019 08:43 AM

भूकंप के झटकों से थर्राया लाहुल

केलांग—लाहुल-स्पीति में गुरुवार जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा मेगा मॉकड्रिल का आयोजन किया गया, जिसमें जिला के सभी विभागों सहित सीमा सड़क संगठन तथा भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों ने भाग लिया। गुरुवार सुबह आठ बजकर 30 मिनट पर मैगा मॉकड्रिल शुरू की गई। जिला आपातकालीन संचालन केंद्र (डीसीओसी) की बैठक में उपायुक्त केके सरोच ने अधिकारियों को आवश्यक निदेशा निर्देश दिए और जिला के विभिन्न क्षेत्रों से प्राप्त आपदा की सूचना के अनुसार बचाव दल रवाना किए गए। राहत व बचाव कार्यों के सही संचालन के लिए पुलिस मैदान केलांग में स्टेजिंग एरिया, चिकित्सा शिविर तथा अन्य कैंप स्थापित किए गए। एसडीएम अमर नेगी सभी अधिकारियों को वॉकी-टॉकी सैट से आवश्यक निर्देश देते रहे, जबकि उपायुक्त केके सरोच तथा परियोजना अधिकारी जनजातीय विकास स्मृतिका नेगी जिला आपातकालीन संचालन केंद्र (डीसीओसी) में पूरे जिला के मोनेटरिंग करते रहे। उपायुक्त केके सरोच ने बताया कि मैगा मॉक ड्रिल में राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने मंडी जिला के सुंदरनगर में आठ रेक्टर सकेल का भूकंप परिदृष्य सुझाया था, जिसके तहत जिला के जिस्पा, बिलिंग, उदयपुर, केलांग, लोअर केलांग के आवासीय परिसर तथा काजा में भवनों के ध्वस्त होने, आगजनी तथा रोड ब्लॉक में फंसे लोगों को बाहर निकालने का प्रयास किया गया। इस बचाव कार्य में बीआरओ, आईटीबीपी, पुलिस, होमगार्ड स्वंय सेवी संस्थाओं तथा सभी विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया। उपायुक्त ने मैगा मॉक ड्रील में कार्य कर रहे सभी विभागों के अधिकारियों के साथ एक बैठक की तथा मैगा मॉक ड्रिल की सफलता के लिए उन्हें बधाई भी दी।