Monday, April 06, 2020 06:00 PM

भोजनगर में सफाई व्यवस्था चरमराई

पंचायत के लोगों को सता रहा गंदगी से संक्रमित बीमारियां फैलने का खतरा 

धर्मपुर(सोलन) -विकास खंड सोलन की ग्राम पंचायत भोजनगर में इन दिनों सफाई व्यवस्था चरमराई हुई है। आलम यह है कि लोगों को इस गंदगी से संक्रमित बीमारियां फैलने का खतरा मंडरा रहा है। जानकारी के अनुसार अधिकतर गंदगी के ढेर भोजनगर-मल्ला संपर्क मार्ग पर पड़े हुए हैं।  गंदगी को देख इस प्रकार लगता है की पंचायत द्वारा यहां पर डंपिंग प्वाइंट ही बना दिया हो। इस कारण लोगों को यहां से निकलने पर परेशानी झेलनी पड़ती है। स्थानीय लोगों द्वारा कई बार इस बारे पंचायत को अवगत कटवा दिया है, लेकिन पंचायत ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया है। रोजाना यहां से पांच गांव के सैकड़ों लोग गुजरते है, जिन्हें निकलने में खासी समस्या झेलनी पड़ती। गौरतलब हो कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत सफाई व्यवस्था बनाए रखने के लिए पंचायतों द्वारा खर्च किया जाता है। इसके बावजूद पंचायतों में गंदगी का आलम रहता है। यही सब नहीं रास्तों में पड़े कूड़े-कचरे के आसपास पशु व अन्य जानवर घूमते रहते है। इन दिनों यही हाल भोजनगर पंचायत के तहत पड़ने वाले गांव का भी है। पंचायत के तहत आने वाले गांव में सफाई व्यवस्था का हाल बेहाल है और गंदगी बढ़ती जा रही है। स्थानीय निवासी मदन ठाकुर, भीम सिंह, कृष्ण कुमार, रमन ठाकुर, कमल शर्मा, तेजी शर्मा, उत्तम शर्मा व प्रकाश ने बताया कि भोजनगर-मल्ला संपर्क मार्ग से खुंदी, घाईया, घरेडिया व अन्य गांव को जाने वाला शॉर्टकट रास्ते में गंदगी के बुरे हाल है। यहां से निकलने के लिए नाक व मुंह ढक कर निकलना पड़ता है। साथ ही आसपास के घरों में रह रहे लोगों को बीमारियां होने का खतरा भी मंडराने लग गया है। रोजाना इस रास्ते का प्रयोग स्थानीय लोग करते हैं। लोगों का कहना है कि कई बार ग्राम पंचायत भोजनगर को इस समस्या बारे कहा   है, लेकिन इस पर कोई भी गौर नहीं किया गया। लोगों ने मांग की है कि जल्द इस गंदगी को हटा दिया जाए, ताकि समय रहते लोग संक्रमित बिमारियों से बच जाएं।