Sunday, July 05, 2020 06:01 AM

भोटा से एक और मरीज नेरचौक मेडिकल कालेज रैफर

सांस लेने में हो रही दिक्कत, 21 मई को पाया गया था कोरोना पॉजिटिव

हमीरपुर-कोविड-19 सेकेंडरी हास्पिटल आरसीएच भोटा में उपचाराधीन कोरोना संक्रमित एक बुजुर्ग को रविवार के दिन नेरचौक मेडिकल कालेज रैफर किया गया है। बताया जा रहा है कि व्यक्ति को सांस लेने में दिक्कत पेश आ रही थी। इस कारण इसे मेडिकल कालेज रैफर किया गया, ताकि वहां पर इसका सही तरीके से उपचार हो सके। रविवार सुबह ही इसे भोटा से मेडिकल कालेज नेरचौक भेजा गया है। बीते शनिवार को भी एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति टांडा मेडिकल कालेज रैफर किया गया है। इसे कोरोना संक्रमण के साथ ही अन्य बीमारी भी है। गंभीरता को समझते हुए चिकित्सकों ने इसे टांडा मेडिकल कालेज रैफर किया है। दो दिन में दो कोरोना संक्रमित मरीज आरसीएच भोटा से अन्यत्र जगह रैफर किए गए हैं। जानकारी के अनुसार डुग्घा निवासी 75 वर्षीय बुजुर्ग बीती 21 मई को ही कोरोना संक्रमित पाया गया है। यह अपनी पत्नी को लेकर जालंधर गया था। पत्नी लीवर रोग से जूझ रही है। जालंधर से लौटने बुजुर्ग के सैंपल जांच के लिए भेजे गए। जांच रिपोर्ट में बुजुर्ग संक्रमित पाया गया। इसे भोटा अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसके बाद इसकी पत्नी का सैंपल भी जांच के लिए भेजा गया। हालांकि लीवर रोग से ग्रसित होने के कारण महिला को आईजीएमसी शिमला भेजा गया है। वहां पर महिला कोरोना पॉजिटिव निकली। शिमला में ही महिला का उपचार चल रहा है। भोट में उपचाराधीन 75 वर्षीय बुजुर्ग को सांस लेने में दिक्कतें पेश आ रही थी। उपचार में जुट डाक्टर्ज ने व्यक्ति को श्री लाल बहादुर शास्त्री राजकीय मेडिकल कालेज नेरचौक जिला मंडी रैफर कर दिया। वहां पर व्यक्ति को उपचार की सुविधा मिलेगी।