Tuesday, March 31, 2020 01:53 PM

मटन 400-मोमो 70 रुपए में

रिकांगपिओ में प्रशासन के दखल पर किलो और प्लेट के रेट तय

रिकांगपिओ - प्रशासन के दखल के बाद आखिर मीट विक्रेताओं व मोमो चोमिन ढाबा मालिकों ने अपने रेटों में कटौती कर दी है। जिला में पिछले कुछ महीने से मीट विक्रेताओं सहित होटल ढाबा मालिकों ने दामों में काफी ज्यादा इजाफा कर दिया था। खाद्य पदार्थों की अधिक वसूली को लेकर खबरों की सुर्खियां बनी थीं, जिसके बाद किन्नौर प्रशासन हरकत में आया। एसडीएम कल्पा डा. मेजर, डाक्टर अवनींद्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में टीम ने रिकांगपिओ बाजार में दबिश देकर साफ-सफाई का निरीक्षण करने के साथ मीट, चिकन व सब्जियों की दुकानों का औचक निरीक्षण किया था। उपायुक्त किन्नौर गोपाल चंद ने सभी खाद्य दामों की दर तय की है। जहां पहले मीट विक्रेताओं ने अपनी मजऱ्ी से एक किलो मीट के दाम 480 किया था अब प्रशासन ने उसे 400 रुपए तय किया गया है। इसी तरह चिकन के दाम में भी कटौती की गई है। इसी तरह ढाबों में बिकने वाले मोमो ए चोमिन फुल एक प्लेट जहां 100 रुपए किया था उसे भी प्रशासन द्वारा 70 रुपए तय किया गया है, जबकि हाफ  प्लेट 40 रुपए तय किया है। इसी प्रकार चपाती तंदूरी 7 रुपए व चपाती तवा 5 रुपए निर्धारित किया गया है।

सब्जी विक्रेताओं ने दामों में किया इजाफा          

राजेंद्र नेगी, तेजस्वी, गौतम नेगी, आंगचुक दोर्जे सहित कई उपभोगताओं ने बताया कि सरकार द्वारा पूरे देश व प्रदेश में कर्फ्यू का ऐलान करने के साथ ही रिकांगपिओ सहित जिला के कई अन्य क्षेत्रों के सब्जी विक्रेताओं द्वारा दामों में काफी ज्यादा इजाफा कर दिया गया है। रिकांगपिओ के अधिकांश दुकानों में जहां 35 से 40 रुपए प्रति किलो प्याज बिक रहा है वहीं एक दुकानदार ने कर्फ्यू की घोषणा वाले दिन से 50 रुपए प्रति किलो के हिसाब से प्याज बेचना शुरू कर दिया है।