Tuesday, October 15, 2019 09:00 AM

मदद की आस दिल में लिए चल बसी भागो देवी

कंडबाड़ी में आयोजित जनमंच में बुजुर्ग महिला ने मकान की जर्जर हालत की दर्ज करवाई थी शिकायत

पालमपुर -जनमंच में अपने मकान की जर्जर हालत को लेकर मदद के लिए पहुंची भागो देवी अब इस दुनिया में नहीं रही। आठ सितंबर को कंडबाड़ी में आयोजित जनमंच में मोलीचक्क निवासी भागो देवी ने बताया था कि किस तरह उसका मकान का हिस्सा पानी के बहाव के साथ बह गया है। पांच सितंबर को भारी बरसात के चलते भागो देवी के घर के साथ बहती टिक्करे वाली कूहल में इतना पानी आ गया कि चौतरफा भागो देवी का कच्ची ईंटों से बना घर पानी के दलदल मलबे से भर गया । परिणामस्वरूप पानी का बहाव इतना ज्यादा था कि भागो देवी के आंगन में बने शौचालय व बाथरूम को भी बहा कर ले गया। भागो देवी को मदद का आश्वासन मिला था, लेकिन जानकारी के अनुसार एक सप्ताह तक उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। अंततः इसी गांव के भाजपा इकाई के अध्यक्ष कैप्टन कर्म चंद, महामंत्री वासुदेव शर्मा व पूर्व विधायक प्रवीण कुमार से मिले और उन्होंने भागो देवी के घर पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया। पूर्व विधायक ने कहा कि उस दिन रविवार था मोबाइल पर केवल नायब तहसीलदार से ही संपर्क हुआ, जिन्होंने कार्यालय से तिरपाल ले जाने के आदेश दिए। पूर्व विधायक प्रवीण कुमार के अनुसार तिरपाल भेजा तो गया लेकिन कहा गया कि तिरपाल को सही हालत में वापस करना है। मकान के पास जहां भू-स्खलन हो रहा था वहां पर भागो देवी ने इस कारण तिरपाल नहीं डाला कि कहीं फट न  जाए। मोलीचक्क निवासी भागो देवी के निधन पर पालमपुर के पूर्व विधायक प्रवीण कुमार ने गहरा शोक जताते हुए जानना चाहा है कि आखिर जनमंच पर स्वयं उपस्थित प्रभावित भागो देवी के मामले को प्रशासन ने इतने हल्के में क्यों लिया जबकि विस उपाध्यक्ष हंसराज ने मामले में जल्द से जल्द उचित कदम उठाने के निर्देश दिए थे। उधर, एसडीएम पालमपुर पंकज शर्मा ने कहा कि भागो देवी की सहायता की जा रही थी।