Sunday, November 17, 2019 03:26 PM

मनाली-काजा सड़क पर नहीं दौड़ेंगी गाडि़यां

प्रशासन ने आज से आधिकारिक तौर पर किया बंद, अब अपने रिस्क पर करना होगा सफर

केलांग -मनाली-काजा सड़क को 15 अक्तूबर से आधिकारिक तौर पर बंद कर दिया जाएगा। उक्त सड़क पर जहां 15 अक्तूबर के बाद वाहनों की आवाजाही अपने रिस्क पर रहेगी, वहीं प्रशासन ने चंद्रताल से भी पुलिस चौकी हो हटा दिया है। एसडीएम केलांग अमर नेगी ने खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि खराब मौसम को ध्यान में रख यह कदम उठाया गया है। उन्होंने बताया कि इससे पहले 15 सितंबर को जहां केलांग-लेह मार्ग को आधिकारिक तौर पर बंद किया गया था, वहीं 15 अक्तूबर से मनाली-काजा मार्ग को भी अधिकारिक तौर पर बंद कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि लाहुल-स्पीति में सर्दियों का आगाज हो चुका है। ऐसे में घाटी में की भारी हिमापात का दौर शुरू हो सकता है। लिहाजा प्रशासन ने राहगीरों से अपील की है कि मौसम को ध्यान में रख ही लाहुल-स्पीति का रुख करें। उन्होंने बताया कि लाहुल-स्पीति के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित की गई अस्थायी पुलिस चौकियों को भी क्रम वद्ध तरीके से हटाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पुलिस प्रशासन ने दारचा व चंद्रताल से अस्थायी पुलिस चैक पोस्टों को हटा दिया है। उन्होंने बताया कि 15 नवंबर से रोहतांग दर्रे को भी आधिकारिक तौर पर बंद किया जाता है। ऐसे मंे लाहुल-स्पीति प्रशासन ने जहां सर्दियों से निपटने की अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं, वहीं मनाली-काजा सड़क को 15 अक्तूबर से आधिकारिक तौर पर बंद कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि मनाली-लेह मार्ग पर जहां इस बार सैलानियों की संख्या कुछ खास नहीं रही, वहीं लाहुल-स्पीति के लगातार बदल रहे मौसम ने राहगीरों को भी खासा तंग किया है। रोहतांग दर्रे पर अक्तूबर माह की शुरुआत में ही हिमपात का दौर शुरू होने से दर्रा दो बार वाहनों की आवाजाही के लिए जहां बंद रहा, वहीं बीआरओ को भी खसी मश्क्कत कर रोहतांग दर्रे को बहाल करना पड़ा। यही नहीं दर्रे पर अचानक हुई बर्फबारी के कारण जहां सैकड़ों सैलानी घंटों रोहतांग दर्रे पर फंसे रहे, वहीं अब प्रशासन ने समय रहते मनाली-काजा सड़क पर भी आधिकारिक तौर पर वाहनों की आवाजाही को बंद कर दिया है। हालांकि निजी वाहन उक्त सड़क पर चलते रहेंगे। उधर, लाहुल-स्पीति के विधायक एवं कृषि मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय का कहना है कि घाटी में सर्दियों की शुरुआत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि सर्दियों में लाहुल के लोगों को किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो इस लिए रोहतांग टनल से लोगों की आवाजाही के लिए बीआरओ के अधिकारियों से जल्द एक बैठक आयोजित की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस बार भी आधिकारिक तौर पर 15 अक्तूबर से मनाली-काजा सड़क को बंद करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि लाहुल-स्पीति की भूगौलिक परिस्थितियों को ध्यान में रख यह कदम उठाया गया है। उन्होंने बताया कि लोगों की सुरक्षा सबसे पहले है। ऐसे में प्रशासन व सरकार की यह कोशिश रहती है कि समय रहते ही लोगों को घाटी के सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाया जाए। बहरहाल मनाली-काजा सड़क को 15 अक्तूबर से आधिकारिक तौर पर बंद कर दिया गया है।