Thursday, November 14, 2019 02:13 PM

मनाली के पलचान में सीजन का पहला हिमपात

कुल्लू -रोहतांग दर्रा समेत मनाली के साथ लगते पर्यटन स्थलों ने बर्फ की सफेद चाद ओढ़ ली है। राहनीनाला में पौने तीन फुट, मढ़ी में सवा दो फुट, राहलफाल में डेढ़ फुट, गुलाबा सहित फातरू में एक फुट, कोठी में चार इंच जबकि सोलांग, पलचान, कुलंग व मझाच गांव ने भी बर्फ  की परत ओढ़़ी है। मनाली की समस्त पहाडि़या बर्फ से ढक गई है। वहीं, मानतलाई, हनुमान टिब्बा, चंद्रखणी, जलोड़ी जोत, लगघाटी, बंजार, सैंज, गड़सा घाटी की ऊंची चोटियों बर्फ से सफेद हो गई हंै। लिहाजा, बर्फबारी से जिला कुल्लू के तापमान में गिरावट दर्ज की गई है और काफी ठंड हो गई है। सोलांगनाला व कोठी बना सैलानियों के स्नो प्वाईंट रोहतांग दर्रा बर्फबारी के कारण सैलानियों के लिए बंद हो गया है। सैलानियों को निकटवर्ती पर्यटन स्थल कोठी व सोलंगनाला में बर्फ का दीदार हो रहे है। सैलानी आसमान से गिर रहे बर्फ के फाहों का आनंद ले रहे हैं। फोटोग्राफी सहित सैलानी पैराग्लाइडिंग, स्कीइंग, स्नो स्कूटर, माउंटेन बाइक, स्नो स्लेज सहित अनेक बर्फ की खेलों का आनंद लंे रहे हंै।

मनमानी न करें, प्रशासन के निर्देशों का पालन करें सैलानी

उधर, एसडीएम मनाली रमन घरसंगी ने बताया कि सैलानियों को सोलंगनाला व कोठी तक ही जाने की अनुमति दी गई है। उन्होंने सैलनियों से आग्रह किया की वो प्रशासन का सहयोग करें। गुरुवार को भी सैलानी मनमानी कर कोठी से आगे चले थे और बर्फ में फंस गए थे, जिन्हें रेस्क्यू करने में प्रशासन को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ा था। उन्होंने कहा कि मनमानी करने वाले वाहन चालकों पर कड़ी करवाई की जाएगी।