Saturday, November 27, 2021 11:08 PM

महंगाई के तड़के ने बिगाड़ा हर रसोई का स्वाद, टमाटर 80 रुपए किलो

नाहन में त्योहारी सीजन में रेट बढऩे से आम आदमी की जेब होने लगी खाली, सरकार से बढ़ते दामों पर लगाम लगाने की गुहार

सुभाष शर्मा-नाहन त्योहारी सीजन में महंगाई की मार के साथ रोजमर्रा की दाल सब्जियों में लगने वाला तड़का भी महंगा हो चला है, जिसके चलते आम आदमी की रसोई का जायका बिगड़ कर रह गया है। जिला सिरमौर में लगातार टमाटर, प्याज, सब्जियों व फलों के रेट में उछाल जारी है। नाहन के बड़ा चौक में टमाटर गुरुवार को भी 80 रुपए प्रति किलो के भाव से स्थिर बना रहा, जबकि प्याज के दाम 50 के पार बने हुए है।

वहीं, फूलगोभी को आलू की सब्जी का स्वाद लेना आम आदमी के बस से बाहर हो रहा है। फूलगोभी सब्जी बाजार में 60 रुपए प्रतिकिलो से ऊपर बिक रही हैं, जबकि आलू पहाड़ी के दाम 40 रुपए प्रति किलो तक पहुंच रहे है। बड़ा चौक के सब्जी विक्रेता राजकुमार, अशोक कुमार, गगन कुमार व मयंक इत्यदि ने बताया कि सब्जियों के थौक दामों में ही मंडियों से तेजी चली आ रही है। इसके चलते रिटेल दाम बढ़े हुए है। वहीं, उपभोक्ता प्रेमपाल, किरण, सरोज, लता व उपमा इत्यादि ने बताया कि त्योहारी सीजन में खाने-पीने की चीजें भी महंगी हो गई है, जिसके चलते जो वस्तुएं एक किलो व उससे अधिक मात्रा में खरीदी जाती थी। अब 250 ग्राम व 300 गा्रम तक की मात्रा में लेने पर मजबूर होना पड़ रहा है। गृहिणियों का कहना है कि सब्जियों को किसी तरह से खरीदने के साथ ही यदि तड़का लगाना हो तो खाद्य तेल भी 200 रुपए लीटर से ऊपर हो गया है। ऐसे में पांच व उससे अधिक सदस्यों वाले परिवारों का गुजारा चलाना मुश्किल हो गया हैं। वहीं, त्योहारी सीजन में पर्रंपराओं को निभाने के लिए खरीददारी आवश्यक होती है। लिहाजा जब खाने-पीने से बजट बिगड़ रहे है तो अन्य वस्तुओं को खरीदने के लिए सोचने पर मजबूर होना पड़ रहा है। उपभोक्ताओं की मांग है कि प्रदेश व केंद्र सरकार खासतौर पर रोजमर्रा की वस्तुओं की पर लगाम लगाते हुए हमें राहत प्रदान करे।