Monday, October 21, 2019 07:54 AM

महंगाई पर अंकुश लगे

 राजेश कुमार चौहान

हाल में पेश किए गए बजट से ही देश का पूर्ण विकास तय हो जाए, ऐसा संभव नहीं है, परंतु कुछ विकास हो पाएगा। बजट किसी भी सरकार ने या आने वाले समय में कोई भी पेश क्यों न करे, देश के हर वर्ग को कोई खुश नहीं कर सकता। बजट के बाद भी सरकार को अंतरराष्ट्रीय बाजार व आर्थिक स्थिति को देखते हुए बजट में लिए फैसलों पर अपनी नीतियों में कुछ परिवर्तन करना पड़ता है। यह जरूर है कि मोदी सरकार को बजट के बाद ऐसा कोई फैसला नहीं लेना चाहिए, जिससे आमजन की रोजमर्रा में प्रयोग होने वाली जरूरी वस्तुओं की कीमतों में भारी वृद्धि हो, खासतौर पर खाने-पीने की चीजों में।