Tuesday, November 19, 2019 03:38 AM

महंगाई-बेरोजगारी-भ्रष्टाचार पर गरजी कांग्रेस

पुतला जलाने के बाद केंद्र सरकार के खिलाफ की जोरदार नारेबाजी, विधायक रामलाल ठाकुर रहे गैरहाजिर

बिलासपुर - महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों को लेकर गुरुवार को कांग्रेस ने यहां जिला मुख्यालय में जोरदार प्रदर्शन किया।हाथों में पार्टी के झंडे उठाए कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उसके बाद उक्त मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार का पुतला भी जलाया गया। हालांकि इस प्रदर्शन में जिला के तीन विधानसभा क्षेत्रों के कांग्रेस नेताओं ने उपस्थिति दर्ज कराते हुए एकजुटता दिखाई, लेकिन जिला से कांग्रेस के एकमात्र विधायक रामलाल ठाकुर इसमें भाग लेने नहीं पहंचे। बिलासपुर में केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के लिए बड़सर के विधायक आईडी लखनपाल बतौर ऑब्जर्वर पहंचे। इसके अलावा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं पूर्व सीपीएस राजेश धर्माणी, जिला अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक बंबर ठाकुर, पूर्व विधायक डा. बीरुराम किशोर तथा विवेक कुमार व तेजस्वी शर्मा समेत कई अन्य पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने भी इसमें भाग लिया। वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के चलते महंगाई लगातार बढ़ रही है। दालों के दाम आसमान छू रहे हैं। प्याज 80 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बिक रहा है। पहले नोटबंदी और उसके बाद जीएसटी ने लोगों की कमर तोड़ दी। पीएम नरेंद्र मोदी ने हर साल दो करोड़ युवाओं को नौकरी देने का वादा किया था, लेकिन हालात इसके विपरीत हैं। फैक्टरियां धड़ाधड़ बंद हो रही हैं, जिससे करोड़ों लोगों को हाथों से हाथ धोना पड़ा है। आर्थिक मंदी का आलम यह है कि लोगों को बैंकों में जमा अपना ही पैसा नहीं मिल पा रहा है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि हिमाचल में भी केंद्र जैसे ही हालात हैं। अकेले बिलासपुर की बात करें तो कोठीपुरा में निर्माणाधीन एम्स में रोजगार के लिहाज से स्थानीय युवाओं की अनदेखी की जा रही है। इंजीनियर तो दूर, किसी स्थानीय मजदूर को भी एम्स में रोजगार नहीं मिला है। प्रदर्शन के बाद कांग्रेस नेताओं ने राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर केंद्र सरकार की मनमानी पर रोक लगाने की मांग की। इस दौरान वरिष्ठ नेता प्रताप कौंडल समेत कई कांग्रेस नेता मौजूद रहे।