महज एक रुपए में बिक रही जेट एयरवेज की 50 फीसदी हिस्सेदारी

नई दिल्ली। एक दौर में देश की शीर्ष एयरलाइन कंपनियों में शुमार रही जेट एयरवेज इन दिनों कर्ज के संकट से रही है। यहां तक कि कंपनी की आधी हिस्सेदारी एक रुपए में बिकने जा रही है। कंपनी को कर्ज देने वाले भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले सरकारी बैंकों के समूह ने कंपनी के 50.1 फीसदी शेयरों को एक रुपए में लेने की बात कही है। यह डील कंपनी को दिए गए कर्ज के पुनर्गठन के लिए है। बीते करीब एक दशक से देश की टॉप-3 एयरलाइंस में शुमार रही जेट एयरवेज को कभी टिकट एजेंट रहे नरेश गोयल ने स्थापित किया था।

 

Related Stories: