Wednesday, July 17, 2019 07:49 AM

महेंद्र सिंह ने कटवाया आश्रय शर्मा का टिकट

अनिल शर्मा बोले, सीएम जयराम ठाकुर पन्ने पलटेंगे तो राज हमारे दिल में भी हैं

मंडी -पूर्व ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने एक बार फिर मुख्यमंत्री के सलाहकारों को लेकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि भाजपा के सर्वे में आश्रय शर्मा पहले नंबर पर थे, लेकिन महेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री पर दबाव बनाकर आश्रय का टिकट कटवा दिया। अगर आश्रय शर्मा को टिकट मिला होता तो आज मुख्यमंत्री को मंडी में इन परिस्थितियों का सामना नहीं करना पड़ता। अनिल शर्मा ने कहा कि यह बात उन्होंने हाइकमान के सामने भी कही थी, लेकिन प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाकर आश्रय का टिकट कटवा दिया गया। राज खोलने की बात को लेकर अनिल शर्मा ने कहा कि अगर पन्ने मुख्यमंत्री पलटेंगे तो मैं भी पलटूंगा। मैं अपनी तरफ से पहल नहीं करूंगा। जैसे उनकेदिल में राज हैं तो हमारे दिल में भी बहुत राज हैं। मैं आज भी भाजपा में हूं और मेरे साथ गई टीम भाजपा में ही है। अगर पार्टी मुझे निकालती है, तो उसके बाद अगला कदम तय किया जाएगा। जयराम ठाकुर को मुख्यमंत्री बनाने के लिए सबसे पहले पंडित सुखराम ने ही बयान दिया था और विधायक मुख्यमंत्री का चयन करते हैं। अनिल शर्मा ने कहा कि महेंद्र सिंह झूठ की राजनीति करते हैं। सियासत में महेंद्र सिंह जैसा झूठा इनसान नहीं देखा है। अनिल शर्मा ने कहा कि मैं मंच पर इस बात को करने के लिए तैयार हूं। उन्होंने कभी मुझसे सदर हल्के के दो हजार लोगों को रोजगार देने की बात नहीं की थी। मैं मंच पर अपने देवता की कसम खाने के लिए तैयार हूं और महेंद्र सिंह भी मंच पर आकर अपने देवता को साक्षी मान कर कहें कि उनके लगाए गए आरोप सच हैं। अनिल शर्मा ने कहा कि महेंद्र सिंह ठाकुर ने कभी बुरे समय में पंडित सुखराम का साथ नहीं दिया था, जबकि पंडित सुखराम ने तीन बडे़ विभाग महेंद्र सिंह को दिलाए थे।

देवी-देवताओं की कसम खाएं मुख्यमंत्री

अपने आवास पर विशेष बातचीत में अनिल शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री देवी देवताओं पर विश्वास रखते हैं और देवी-देवताओं के क्षेत्र से आते हैं। नेताओं की बयानबाजी पर जनता विश्वास नहीं करती है, लेकिन लोग देवी-देवताओं पर विश्वास रखते हैं। इसलिए जयराम ठाकुर इन्हीं देवी देवताओं की कसम खाकर कहें कि मैं कब उनके पास विभाग मांगने के लिए पंडित सुखराम के साथ आया था।