Thursday, October 01, 2020 01:10 AM

मां-बाप, बुजुर्गों-गुरुजनों का करें सम्मान

कियानी स्कूल में वार्षिक समारोह के दौरान विधानसभा उपाध्यक्ष ने छात्र-छात्राओं को दी सीख

चंबा -विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने कहा है कि सोशल मीडिया का उपयोग रचनात्मक दृष्टि से किया जाए तो यह विद्यार्थियों के लिए सहायक साबित हो सकता है। वहीं, दूसरी ओर अध्यापकों को सोशल मीडिया के दुष्प्रभावों को लेकर भी विद्यार्थियों को जागरूक करना चाहिए। शुक्रवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कियानी के वार्षिक समारोह में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। हंसराज ने कहा कि मात्र डिग्रियां हासिल कर लेने से कोई भी व्यक्ति प्रतिष्ठित नहीं बन सकता। यदि हम अपने मां-बाप, बुजुर्गों और गुरुजनों का सम्मान नहीं कर सकते तो फिर डिग्रियों का कोई औचित्य नहीं रह जाता। विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि कियानी स्कूल बीते कई दशकों से शिक्षा की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण केंद्र रहा है। स्कूल से शिक्षा ग्रहण करने वाले कई विद्यार्थी आगे चलकर बड़े पदों पर भी सेवारत रहे। स्कूल की चारदीवारी के निर्माण की मांग को लेकर विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि स्कूल प्रबंधन समिति चारदीवारी के निर्माण का प्राकलन तैयार करवाए, आवश्यक धनराशि मंजूर कर दी जाएगी।   उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि चंबा जिला में गत दो वर्षों के दौरान नवीं और दसवीं कक्षा के 26 हजार  विद्यार्थियों को निःशुल्क किताबें वितरित की गई। इसी अवधि में 25920 विद्यार्थियों को विभिन्न छात्रवृत्ति योजनाओं के तहत तीन करोड़ 88 लाख रुपए की  राशि प्रदान की जा चुकी है। हंसराज ने स्कूल में सांस्कृतिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए अपनी ऐच्छिक निधि से 51 हजार की राशि प्रदान करने की भी घोषणा की।  इससे पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष ने दीप प्रज्वलित करके समारोह का विधिवत शुभारंभ किया। पाठशाला की प्रिंसिपल रजनी बिजलवान ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। स्कूल के छात्र और छात्राओं द्वारा समारोह के दौरान आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्त्रम की प्रस्तुतियां पेश की गई जिन्हें खूब सराहा गया। इस मौके पर चुराह भाजपा मंडल उपाध्यक्ष शुभम ठाकुर के अलावा स्कूल प्रबंधन समिति अध्यक्ष सोमदत्त शर्मा, भाजपा मंडल वरिष्ठ सलाहकार कैप्टन एमआर ठाकुर, वरिष्ठ मंडल उपाध्यक्ष कर्मचंद, पंचायत प्रधान चंपा देवी, उपप्रधान सुरजीत जंदरोटिया के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी और बड़ी तादाद में अभिभावक भी मौजूद रहे।