Wednesday, April 24, 2019 05:51 AM

मानसिक संतुलन खो चुके हैं भाजपा चीफ

 ऊना —भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं। अगर सत्ती ने बद्दी में कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर दिए बयान पर जल्द माफी नही मांगी, तो उनका घेराव किया जाएगा। यह बात ऊना में पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए हिमाचल प्रदेश कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व विधायक सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कही। उन्होंने कहा कि हमेशा ही संस्कारों का हवाला देने वाली भाजपा पार्टी क्या अब प्रदेशाध्यक्ष के बड़बोलेपन पर कार्रवाई करेगी। सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि भाजपाध्यक्ष ने बद्दी में कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ जो बयानबाजी की है, वह निंदनीय है। लगता है सतपाल सत्ती विधानसभा चुनाव हारने के बाद अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं और अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं। सतपाल सत्ती की बयानबाजी से भाजपा की विचारधारा साफ झलक रही है। एक राष्ट्रीय दल के प्रदेशाध्यक्ष को ऐसी बयानबाजी बिलकुल शोभा नहीं देती। धार्मिक संस्था पर दिए गए सतपाल सत्ती के बयान पर उन्होंने कहा कि धार्मिक संस्थाओं के खिलाफ बयान देना भाजपा की सोची-समझी चाल है। धार्मिक संस्थाएं तो हमें आपस में मिलकर रहना सिखाती हैं। राजनीतिक मंच से धार्मिक संस्थाओं के खिलाफ गलत बयानबाजी उचित नहीं है, इससे संस्था से जुड़े हजारों लाखों लोगों की आस्था को ठेस पहुंची है। भाषणबाजी में जिस मानसिकता का परिचय भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने दिया है। ऐसा परिचय तो कांग्रेस पार्टी के किसी ब्लॉक स्तर के कार्यकर्ता ने भी नहीं दिया। चुनाव प्रचार में सतपाल सत्ती मर्यादा की सभी सीमाएं लांघ रहे हैं। इस अवसर पर कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता प्रेम कौशल, विधायक सतपाल रायजादा, जिलाध्यक्ष राजेश पराशर, उपाध्यक्ष विवेक मिंका, महासचिव ओमकार कपिला, हजारी लाल धीमान, वरुण पुरी, राजकुमार राजू, दीपक लट्ठ सहित अन्य मौजूद थे।