Friday, August 14, 2020 02:04 PM

मीट-अंडे छोड़, मशरूम-कटहल खरीद रहे लोग

शिमला - कोरोना वायरस का खौफ इस समय सभी के सिर चढ़कर बोल रहा है। शिमला की मीट मार्केट में भी नॉनवेज  की खरीददारी न के बराबर देखी जा रही है। लोग मीट के बजाय सब्जी और मशरूम,पनीर, कटहल की खरीददारी कर रहे हैं। कोरोना वायरस के चलते लोगों में तरह-तरह की अफवाएं फैल रही है। ऐसे में लोग नॉनवेज खाने से पूरी तरह से परहेज कर रहे हैं। हालांकि कर्फ्यू व लॉकडाउन से पहले मीट बाजार में खरीददारी के लिए लोगों की भीड़ लगी रहती थी, लेकिन इन दिनों मीट मार्केट में सन्नाटा है। खरीददार नहीं पहुंच रहे हैं। हालांकि प्रशासन ने भी इन दुकानों को खोलने के लिए कुछ निर्देश व समय दिया था। बावजूद इसके मास की खरीददारी से लोग डर रहे हैं। इस वायरस की दहशत का सबसे ज्यादा असर अंडे, मीट एवं चिकन पर पड़ा है। अकेले अंडे के कारोबार में ही पिछले कई दिनों से घाटा देखा जा रहा है। बीमारी की आशंका से लोग घरों से नहीं निकल रहे हैं। अंडा कारोबारी खुसरो खान का कहना है कि कोरोना की अफवाहों का सबसे ज्यादा असर अंडे, मीट, चिकन आदि पर पड़ा है। पिछले कई दिनों में अकेले अंडे की बिक्री आधे से भी कम रह गई है। कोरोना के बाद बिक्री आधी रह गई है। ग्राहक कम ही आ रहे हैं। जो आ रहे हैं वे अंडे, मीट, चिकन आदि के बजाय कटहल एवं मशरूम आदि से बने व्यंजन ही पसंद कर रहे हैं। सब्जी मंडी कारोबारी अशोक ने बताया कि कोरोना वायरस के बारे में तरह-तरह की चर्चाओं ने हालांकि सब्जियों के कारोबार पर भी असर डाला है, लेकिन कम मात्रा में बिकने वाली सब्जियां कटहल एवं मशरूम की बिक्री में एकाएक इजाफा हुआ है। पहले मशरूम मात्र सहालग के समय मांग पर ही मंगाई जाती थी, लेकिन अब आम दिनों में भी उसकी डिमांड हो रही है। कटहल के मामले में भी कमोबेश ऐसा ही है।

डगमगा रहा है चिकन का व्यापार

शिमला में जिस तरह से कोरोना का खौफ बढ़ रहा है। वैसे ही लोग नॉनवेज से भी पूरी तरह से परहेज करते नजर आ रहे हैं। इससे चिकन का व्यापार काफी डगमगा गया है। दुकान में बहुत कम ग्राहक आ रहे हैं। लोगों का रुझान देशी व कॉकरेल व देशी मुर्गा की भी डिमांड घट गई है। शिमला की मीट मंड़ी में इन दिनों नॉनवेज की खरीददारी न के बराबर देखी जा रही है। ऐसे में जिन लोगों को घर मीट मार्केट से चलता था। उनको काफी दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है।

नॉनवेज का विकल्प बना कटहल-मशरूम

सोशल मीडिया पर तरह-तरह के कमेंट एवं अफवाहों के चलते मीट, चिकन व अंडे से बने व्यंजनों की बिक्री जैसे-जैसे घट रही है, वैसे-वैसे कटहल एवं मशरूम की मांग बढ़ रही है। लोग इसे चिकन आदि के विकल्प के रूप में पसंद कर रहे हैं। इसका असर इन सब्जियों की बिक्री पर पड़ा है। इनकी बिक्री में डेढ़ से दोगुना तक इजाफा हुआ है।