Tuesday, September 17, 2019 02:11 PM

मेला राम शर्मा को कला सृजन अवार्ड

चंडीगढ़ में राष्ट्रीय संगोष्ठी में देश के जाने-माने लेखकों-साहित्यकारों ने किया सम्मानित राजगढ़ -हिमाचल प्रदेश के फिल्म निर्माता मेला राम शर्मा को राज्य की गौरवपूर्ण संस्कृति से सात समंदर पार बैठे लोगों को भी रू-ब-रू करवाने और प्रदेश के कलाकारों को प्रोत्साहित करके उन्हें मंच प्रदान करने में अमूल्य योगदान देने के लिए  चंडीगढ़ में आयोजित एक राष्ट्रीय संगोष्ठी में देश के जाने-माने लेखकों व साहित्यकारों ने सम्मानित किया। संवाद साहित्यिक संस्थान के तत्त्वाधान में आयोजित इस कार्यक्रम को व्यंग्य की महापंचायत का नाम दिया गया था और इसमें दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और हिमाचल सहित चंडीगढ़ से व्यंग्यकारों व साहित्यकारों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। मेला राम शर्मा को उनके द्वारा बनाई गई बूढ़ी दिवाली फिल्म के माध्यम से प्रदेश की समृद्धि लोक संस्कृति को देश दुनिया तक पहुंचाने में महत्त्वपूर्ण योगदान के लिए सम्मानित किया गया। मेला राम शर्मा द्वारा बनाई गई बूढ़ी दिवाली फिल्म को हाल ही में मुंबई में कला समृद्धि अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के दौरान स्पेशल जूरी अवार्ड से सम्मानित किया गया है और उसके पश्चात इसी फिल्म का चयन अमरीका के डाईवर्सिटी फिल्म फेस्टिवल के लिए हुआ है। मेला राम शर्मा को यह सम्मान  देश के शीर्षस्थ व्यंग्यकार व साहित्यकार  सुभाष चंदर, वरिष्ठ पत्रकार साहित्यकार व माध्यम साहित्यिक संस्थान के राष्ट्रीय महासचिव  अनूप श्रीवास्तव, प्रतिष्ठित साहित्यकार राम किशोर उपाध्याय व देश के जाने-माने व्यंग्यकार प्रेम विज द्वारा प्रदान किया गया।  हिमाचल प्रदेश सूचना एवं जनसंपर्क विभाग से उपनिदेशक पद से सेवानिवृत्त हुए मेला राम शर्मा मूलता सिरमौर जिला के रेणुका तहसील में गांव अरट के निवासी हैं और सेवानिवृत्ति के बाद इन्होंने दो फिल्में बनाई हैं। वहीं संवाद साहित्यिक संस्था के हरियाणा पंजाब चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश इकाई के अध्यक्ष गुरमीत बेदी ने बताया कि लेखकों साहित्यकारों और व्यंग्यकारों की इस महापंचायत में हिमाचल प्रदेश की समृद्ध सांस्कृतिक विधाओं को विश्व भर में पहुंचाने के लिए फिल्मकार  मेलाराम शर्मा को सम्मानित किया गया।