Tuesday, June 02, 2020 11:47 AM

यमुना पथ पर बच्चे संग शेरनी ने जमाया डेरा

पांवटा साहिब - पांवटा साहिब में नगर परिषद के सहयोग से निर्मित और रोटरी क्लब पांवटा साहिब द्वारा गोद लिए गए यमुना पथ की सुंदरता को चार चांद लगाने के लिए एक मनमोहक कलाकृति तैयार हो रही है। यह कलाकृति एक शेरनी और उसके बच्चे की है। हालांकि अभी कलाकृति की फिनिशिंग नहीं हुई है लेकिन अभी भी ऐसा लगता है मानों सच में शेरनी अपने शावक संग यमुना पथ पर डेरा जमाए बैठी हो। कवि का यह अनूठा नमूना पांवटा साहिब के प्रसिद्ध मूर्तिकार व आर्टिस्ट राजेश थापा ने बनाया है। अपनी मूर्ति कला के लिए माहिर राजेश थापा की यह कला कोरोना लॉकडाउन के बीच बनी है। जानकारी के मुताबिक पांवटा साहिब में यमुना नदी के किनारे पूर्व की कांग्रेस सरकार में यमुना पथ का निर्माण हुआ। यह पथ यहां के बुजुर्गों और सैर सपाटा करने वालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इस पथ के निर्माण के बाद इसके सौंदर्य का कार्य रोटरी क्लब पांवटा साहिब ने पथ को गोद लेकर किया। रोटरी ने पथ के किनारे जहां पौधारोपण कर इसकी सुंदरता बढ़ाई वहीं दीवारों पर सुंदर वाल पेंटिंग बनवाई। पथ पर सीसीटीवी कैमरे लगाए ताकि शरारती तत्त्व हुड़दंग न मचा सकें। एक शैड का निर्माण किया जिसमें बैंच लगाए गए हैं जहां पर सुबह -शाम लोग बैठकर यमुना नदी के सान्निध्य को अनुभव करते हैं। रोटरी क्लब पांवटा साहिब के प्रेजिडेंट अनिल सैणी ने बताया कि इस कलाकृति के लिए क्लब आर्टिस्ट राजेश थापा को सम्मानित करेगा।