Monday, September 16, 2019 07:43 PM

यहां पालकी पर अस्पताल पहुंचाए जा रहे मरीज

सरकाघाट -लोक निर्माण विभाग द्वारा वर्ष 2002 में मस्धवाण से रिस्सा बाया नलासा सिहल 5 किलोमीटर संपर्क सड़क का आधा दर्जन गांवों को सड़क सुविधा प्रदान करने के लिए निर्माण कार्य शुरू तो हुआ। लेकिन 17 वर्ष बीत गए अभी तक कार्य पूरा नही हो पाया है। जिसकी वजह से गत दिन बीमार चल रही नलासा गांव की बीना देवी पत्नी राजींद्र कुमार की तबीयत अचानक बिगड़ जाने पर ग्रामीणों ने भारी बारिश में उसे पालकी मंे बैठाकर रिस्सा तक पहुंचाया और वहां से उसे 108 एंबुलेंस से नागरिक अस्पताल सरकाघाट लाया गया। जहां से डॉक्टरों ने उसे मंडी रैफर कर दिया है। गांव के लेखराज राणा, ईश्वर दास, हरमेश, कश्मीर सिंह, संजय कुमार, पवन, ओमप्रकाश, संतोष, पंकज, भागीरथ पालसरा, राजेंद्र, निलकमल, अमरदत, अजय कुमार, अनीता देवी, बीना, कौश्लया देवी, सलोचना, रजनी और सामाजिक कार्यकर्ता सुनील शर्मा आदि ने बताया कि सड़क निर्माण के कार्य को पूर्ण करने के लिए विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ-साथ स्थानीय पंचायत के प्रधान से लेकर प्रदेश के  मुख्यमंत्री तक अपने की समस्या से अवगत करवाकर सड़क का कार्य पूर्ण करने की गुहार लगा चुके हैं। लेकिन इस ओर अभी तक कोई प्रगति नहीं हुई है।