Thursday, October 01, 2020 12:52 PM

रमई-अंबोट सड़क की खस्ता हालत  सुधारने की मांग

रोहडू-प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत चार किलोमीटर पक्की सड़क निर्माण जो रमई से अंबोट धीमी गति से कार्य करने की क्षेत्रवासियों ने कड़ी निंदा की है। इस सड़क  से नौ गांवों की जनता को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बरसात के दिनों में सड़क तालाबों में तब्दील हो चुकी है। ग्रामीणों का आरोप है कि सेब सीजन चल रहा है,  लेकिन प्रशासन के उच्च पदों पर बैठे कर्मचारी सड़क की दुर्दशा पर आंखें मूंद देख रहे हैं।

सड़क के किनारों में नालियां बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है बरसात के दिनों में जो पानी नालियों में बहना था,  वह सड़क किनारे नालियों के क्षतिग्रस्त होने से  सड़क में ही बह रहा है। युवा विकास मंच पेखा से युवाओं उमेश दाउटू, जीवन नेगी, जिशन डेरवाण, विश्मबर, कपिल, रामकुमार, सुधीर सुभाष, श्री कांत, अमर नाथ, भाग सिंह, विनोद, दिवान, जितेंद्र, चमन लाल, राजेश, राजपाल, मंजीत का कहना है कि इस सड़क पर कले कलवर्टों में पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। कुछ ऐसे स्थान चिन्हित है, जहां पर सड़क बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हैं। सड़क की हालत को लेकर शिष्टवाड़ी गांव में आग के दौरान तत्कालीन शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने भी सड़क की हालत सुधारने की आदेश लोनिवि को दिए थे। युवा विकास मंच साथियों द्वारा लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों को भी इस विषय से अवगत करवाया गया है, ताकि  समस्याओं का समाधान निर्धारित  अंतराल के अंदर किया जाए। यदि इस सड़क की दुर्दशा के ऊपर प्रशासन द्वारा कोई संज्ञान नहीं लिया गया तो आने वाले समय में युवा विकास मंच पेखा  नौ गांव के लोगों के साथ बड़े पैमाने पर आंदोलन करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। अधिशासी अभियता लोनिवि  रोहडू पवन गर्ग से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने फोन न सुनकर जबाब नहीं दिया।

 

The post रमई-अंबोट सड़क की खस्ता हालत  सुधारने की मांग appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.