Tuesday, June 02, 2020 11:51 AM

राहत… फ्री मिलेंगे पांच किलो चावल

नाहन - कोरोना लॉकडाउन के बीच हिमाचल प्रदेश में फंसे बाहरी राज्यों के प्रवासी मजदूरों की चिंता करते हुए केंद्र सरकार ने अब आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत भी प्रवासी मजूदरों के लिए खाद्य सामग्री निःशुल्क उपलब्ध करवाने के लिए द्वार खोल दिए हैं। आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को अब प्रदेश में उचित मूल्यों की दुकानों से पांच किलो प्रति व्यक्ति चावल ओर एक किलो काला चना प्रति परिवार दिया जाएगा। यह राशन दो माह मई ओर जून के लिए आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत प्रदेश में फंसे मजदूरों के लिए उपलब्ध रहेगा। इस योजना में ऐेसे प्रवासी मजदूर जिनका यहां किसी भी तरह का कोई राशन कार्ड नही बना होगा तथा वे किसी एनएफएसए इत्यादि योजना में भी शामिल नही होंगे को इस योजना में शामिल किया गया है। जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक सिरमौर आदित्य बिंद्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि अब प्रदेश में बाहरी राज्यों मे फंसे प्रवासी मजदूरों के लिए आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत दो माह के लिए निःशुल्क पांच किलो प्रतिव्यक्ति चावल तथा एक किलो प्रति परिवार काला चना दिया जाएगा।