Monday, November 18, 2019 05:04 AM

रिजर्व बैंक से पैसा क्यों लिया.

  -डा. राजन मल्होत्रा, पालमपुर

क्या भारत की अर्थव्यवस्था इतनी बिगड़ गई है या विदेशी कर्जा इतना चढ़ गया है जो रिजर्व बैंक ने भारत के भूतपूर्व आरबीआई गवर्नर विमल जलान के कहने पर 1.76 करोड़ रुपए भारत सरकार के प्रयोग के लिए दे दिए। क्या भारतीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण यह बतलाएंगी कि व्यापक विदेशी मुद्रा भण्डार होते हुए भी तथा कई लाख करोड़ रुपए भारतीय अर्थव्यवस्था की सरकुलेशन में चल रहा है, फिर यह रुपए भारत सरकार ने रिजर्व बैंक से क्यों लिया? यह पैसा इतना सरप्लस कैसे था? इसका मतलब तो यह हुआ कि पूर्व कांगे्रस सरकार यह पैसा छोड़ गई है जो अब सरकुलेशन में लाया जा रहा है। नोटों के नम्बर बदल कर ही नए कागज में नए नोट छापने हैं। अब यह 1.76 करोड़ रुपए किस सरकुलेशन में जाएगा, यह आने वाला समय बतलाएगा।