रुपया 20 पैसे टूटा, एक माह के निचले स्तर पर

मुंबई - विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफपीआई) के पूंजी बाजार से डालर निकालने से बुधवार को अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया लगातार चौथे दिन कमजोर हुआ और 20 पैसे टूटकर एक महीने के निचले स्तर 71.24 रुपए प्रति डालर पर आ गया। चार दिन में भारतीय मुद्रा 84 पैसे टूट चुकी है। मंगलवार को यह 12 पैसे की गिरावट में 71.05 पैसे प्रति डालर पर बंद हुई थी। रुपए पर बुधवार को आरंभ से ही दबाव रहा। यह पांच पैसे की नरमी के साथ 71.10 रुपए प्रति डालर पर खुला। घरेलू शेयर बाजार की आरंभिक तेजी के कारण एक समय यह 70.92 रुपए प्रति डालर के उच्चतम स्तर तक भी पहुंचा, लेकिन शेयर बाजार के तेजी खोने के साथ रुपए पर भी दबाव आ गया। दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डालर के मजबूत रहने और एफपीआई के पूंजी बाजार में शुद्ध रूप से बिकवाल रहने से रुपया 71.27 रुपए प्रति डालर तक टूट गया। कारोबार की समाप्ति पर यह मंगलवार के मुकाबले 20 पैसे नीचे 71.25 रुपए प्रति डालर पर बंद हुआ। यह 17 दिसंबर 2018 के बाद का इसका निचला स्तर है। एफपीआई ने पूंजी बाजार से 4.69 करोड़ डालर निकाले। वह लगातार चार कारोबारी दिवसों से शुद्ध रूप से बिकवाल बने हुए हैं।

Related Stories: