Thursday, August 06, 2020 06:44 PM

रोटरी क्लब ने बताया समाजसेवा का अर्थ

पांवटा साहिब - पिछले पांच महीने में 80 स्कूलों को सेनेटरी नैपकिन वैंडिंग मशीन दी, 3200 विद्यार्थियों का निःशुल्क डेंटल चैकअप करवाया, जरूरतमंद हजारों विद्यार्थियों को स्वेटर और जूते प्रदान किए। अस्पताल के बाहर रोजाना तीमारदारों को रात का निःशुल्क भोजन, यमुना पथ पर लाइट, सीसीटीवी कैमरे और शैड निर्माण, कई स्कूलों को कम्प्यूटर सिस्टम, खिलाडि़यों को स्पोर्ट्स किट, गरीबों को कंबल और न जाने कितने समाज की भलाई के कार्य पांवटा साहिब ही नहीं, बल्कि शिलाई और नाहन विधानसभा क्षेत्र में भी किए हैं। बात रोटरी क्लब पांवटा साहिब की हो रही है। हालांकि रोटरी पांवटा पिछले लंबे समय से समाज की भलाई के कार्य कर रही है, लेकिन पिछले पांच माह में रोटरी के इन सोशल प्रोजेक्टस ने जो रफ्तार पकड़ी है उससे हर जुबान पर यह शब्द ला दिए हैं कि ‘ये होती है समाजसेवा। इस बारे में रोटरी क्लब के प्रेजिडेंट अनिल सैणी से बातचीत की गई तो चंद महीनों में ही उपलब्धियों की लंबी लिस्ट सामने आई। रोटरी प्रेजिडेंट ने बताया कि रोटरी हमेशा से समाजसेवा के कार्य करता आ रहा है। उन्होंने बताया कि उन्हें स्कूलों में छात्राओं की समस्या के समाधान के लिए सेनेटरी नैपकिन वैंडिंग मशीन लगाने का प्रोजेक्ट मिला। जिस पर उन्होंने रोटरी के अन्य पदाधिकारियों पूर्व प्रेजिडेंट हिमांशु भाटिया, एनपीएस सहोता, शांति स्वरूप गुप्ता, गुरमीत कौर नारंग, डा. प्रवेश सबलोक, अरुण गोयल, अरुण शर्मा, सरदार कुलवंत सिंह चौधरी, मनमीत सिंह मल्होत्रा, रिपुदमन सिंह कालरा आदि के साथ मिलकर कार्य करना शुरू कर दिया। उनका लक्ष्य जिला के 100 स्कूलों को यह सुविधा उपलब्ध करवाना है। अभी तक वह 80 स्कूलों को यह सुविधा दे चुके हैं, जिसमें 50 स्कूलों को उक्त मशीनें बीते दिनों हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष डा. राजीव बिंदल के हाथों प्रदान की गई। रोटरी हर शाम को सिविल अस्पताल पांवटा साहिब के बाहर तीमारदारों के लिए निःशुल्क भोजन की व्यवस्था करती है और भी कई प्रोजेक्ट किए जा रहे हैं जिनका जनता को लाभ मिले।