Wednesday, July 17, 2019 08:53 PM

रोनहाट आईपीएच आफिस कागजों में

रोनहाट— जिला सिरमौर के विधानसभा क्षेत्र शिलाई में सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग ने रोनहाट में आईपीएच उपमंडल का पांच महीने पूर्व लोकार्पण किया था। 26 फरवरी, 2019 को आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने इसका विधिवत उद्घाटन किया था, लेकिन अभी तक रोनहाट आईपीएच उपमंडल कार्यालय मात्र कागजों में ही सिमट कर रह गया है। हालत यह है कि यहां न कोई सहायक अभियंता है और न ही कोई सीनियर असिस्टेंट लगाया गया है। पांच महीने का समय बीत जाने पर भी रोनहाट में उपमंडल का कार्य स्थायी रूप से शुरू नहीं हो पाया है, जबकि शिलाई में अधिशाषी अभियंता ने उदघाटन के कुछ दिन बाद पदभार ग्रहण कर लिया था, लेकिन रोनहाट में आईपीएच विभाग सुध लेने को तैयार नहीं है। विभाग ने उपमंडल रोनहाट मंे तीन अनुभाग जोड़े थे, जिसमें रोनहाट, पनोग और शिरीक्यारी क्षेत्र शामिल थे, जिससे क्षेत्र की दर्जनों से अधिक पंचायतों के हजारों लोग काफी परेशान नजर आ रहे हैं, लेकिन अभी तक पनोग अनुभाग हरिपुरधार उपमंडल में ही है, जबकि शिरीक्यारी शिलाई डिवीजन में ही है। सिर्फ रोनहाट अनुभाग ही एकमात्र रोनहाट सब-डिवीजन में है। हैरानी इस बात की है कि अभी तक आईपीएच विभाग नौहराधार डिवीजन से शिलाई डिवीजन के लिए अपने कटे हुए एरिये का रिकार्ड तक शिफ्ट नहीं कर पाया है, जिससे लोग काफी परेशान हो रहे हैं। क्षेत्र के ग्रामीण अतर सिंह, गुमान सिंह, कली राम, जाति राम, हरि राम, मनसा राम, रामचंद्र भारद्वाज, लायक राम, खजान सिंह, तेलू राम, जीत सिंह, सही राम आदि का कहना है कि आईपीएच उपमंडल रोनहाट में न कोई स्टाफ है और न ही कोई रिकार्ड है। ऐसे में मजबूरन लोग अपना कार्य करवाने के लिए शिलाई की ओर रुख करते हैं। वहां उन्हें यह कहकर टाल दिया जाता है कि आपका रिकार्ड अभी तक नहीं पहुंचा है आप नौहराधार जाएं। लोग नौहराधार पहुंचते हैं तो वहां बताया जाता है कि आपका आईपीएच डिवीजन शिलाई है और सब-डिवीजन रोनहाट है, जिसको लेकर लोग काफी तंग हैं। आपके कार्य वहीं होंगे यह कहकर लोगों को टाल दिया जाता है। लोग परेशान हो रहे हैं ऐसे में लोगों को समझ नहीं आ रहा कि वह अपना कार्य करवाने कहां जाएं। क्षेत्र के सैकड़ों लोगों का कहना है कि रोनहाट में जल्दी स्टाफ भेजा जाए। उधर, उधर इस संबंध में आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि उन्हें इस बारे पूरी जानकारी नहीं है। उन्होंने बताया कि जल्द ही वहां पर स्टाफ को तैनात किया जाएगा तथा जल्द ही समस्या का समाधान किया जाएगा।.