Tuesday, March 31, 2020 08:09 PM

रोहतांग-कोकसर में चला बर्फीला तूफान, डरे लोग

केलांग -जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति में एक बार फिर बर्फीले तूफान ने लोगों को डरा डाला है। सोमवार देर शाम रोहतांग दर्रे सहित कोकसर में चले बर्फीले तूफान ने जहां लोगों को घरों में कैद कर डाला, वहीं ग्लेशियरों के गिरने का भी खतरा पैदा कर दिया है। खराब मौसम के बीच चले बर्फीले तूफान को देख कबायली डर गए हैं। लोगों का कहना है कि सोमवार देर शाम करीब एक घंटा तक चले बर्फीले तूफान ने जहां पूरी क्षेत्र को बर्फ से ढ़क दिया, वहीं इस दौरान बिजली की तारें व बिजली के पोल भी धराशाही हो गई। या यूं कहें कि बर्फीले तूफान के रास्ते में जो भी आया उसने उसे उखाड़ फेंका। हलांकि बर्फीले तूफान के कारण किसी भी प्रकार का कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है। स्थानीय लोगों का कहना है कि आसमान से बरस रही सफेद आफत ने जनजातीय जिला के लोगोंं को तंग कर डाला है। भारी बर्फबारी के बीच लोगों का घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है, वहीं घाटी में बर्फीले तूफान के चलने से लोगों के दिलों में दहशत का माहौल पैदा कर डाला है। यहां बतादें कि कुछ दिन पहले जहां लाहुल के सिस्सू में बर्फीला तूफान आया था, वहीं सोमवार देर शाम एक बार फिर कोकसर व रोहतांग दर्रे पर बर्फीला तूफान चला है। उधर, लाहुल-स्पीति प्रशासन का कहना है कि कोकसर में देर शाम आए बर्फीले तूफान में किसी भी तरह का कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है। प्रशासन ने लोगों से सुरक्षित स्थलों पर रहने की अपील की है। प्रशासन आपदा प्रबंधन की टीम से जिला के सभी क्षेत्रों की जानकारी हासिल कर रहा है। यहां बतादें कि जिला में खराब मौसम के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है, वहीं इंटरनेट सेवा भी ठप पड़ी गई है। बहरहाल सोमवार देर शाम रोहतांग दर्रे सहित कोकसर में चले बर्फीले तूफान ने लोगों को डरा डाला है।