Saturday, September 21, 2019 04:25 PM

लखविंद्र राणा का बयान गैर जिम्मेदाराना

पूर्व विधायक केएल ठाकुर ने किराए पर दिए बयान पर की घेराबंदी

बीबीएन। -भाजपा जिलाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक केएल ठाकुर ने विधायक लखविंदर सिंह राणा के यूनियन के किराए में कटौती को लेकर दिए बयान को गैर जिम्मेदाराना और राजनीति से प्रेरित बताया । उन्होंने कहा की विधायक अपना मौलिक कर्त्तव्य भूलकर झूठ और लोगों को गुमराह करने की राजनीति कर रहे हैं, जबकि विकास के नाम पर जब से वह विधायक बने हैं उनकी कोई भी उपलब्धि नालागढ़ क्षेत्र के लिए नहीं है।  केएल ठाकुर ने कहा कि ट्रक यूनियन के किराए में कटौती या बढ़ोतरी करना ट्रक यूनियन के पदाधिकारी, एग्जीक्यूटिव मेंबर्स और बीबीएन इंडस्ट्री एसोसिएशन का निर्णय होता है। इंडस्ट्री एसोसिएशन और यूनियन पदाधिकारी और एग्जीक्यूटिव सदस्य मिलकर फैसले करते हैं जिसके आधार पर वह ऐसे निर्णय लेते हैं। इन निर्णयों में विधायक, पूर्व विधायक या सरकार और मंत्री किसी का भी कोई हस्तक्षेप नहीं होता। भाजपा जिलाध्यक्ष ने कहा की ऐसे बयान देकर वह नालागढ़ की जनता और ट्रक  आपरेटरों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे है जबकि कि उन्हें अच्छे से पता है कि इसमें सरकार का कोई हस्तक्षेप नहीं है यहां यह याद दिलाना उचित रहेगा की मौजूदा विधायक ने विधानसभा चुनाव के दौरान पहाड़ी क्षेत्र के लोगों मेंबरशिप दिलवाने का वादा किया था और धोखे से उनकी भावनाओं का फायदा उठाकर वोट लिए थे।  इस प्रकार ऐसी राजनीति नालागढ़ की जनता के साथ विधायक राणा शुरू से ही करते आए हैं। केएल ठाकुर ने कहा कि उनके हिसाब से परवाणु में हुए ट्रक यूनियन के किरायों की कटौती के मद्देनजर एहतियात के तौर पर ट्रक यूनियन ने किराया कम करने का फैसला लिया होगा ,क्योंकि परवाणू में किराए को लेकर जब इंडस्ट्री वालों ने हाई कोर्ट में अपील की थी तो हाई कोर्ट का निर्णय उद्यमियों के पक्ष में  आया था । जिसमें हाइ कोर्ट कम रेट में कंपनी वालों को ट्रांसपोर्ट फैसिलिटी प्रोवाइड करवाता है कंपनियों को अपनी इच्छा अनुसार उन्हें काम देने का हक दिया गया था ,यदि ऐसा नालागढ़ में हो जाता तो जिनके ज्यादा ट्रक हैं उनको तो लाभ पहुंचता लेकिन जो एक एक एक और दो ट्रकों पर निर्भर है उन्हें काफी नुकसान हो जाता। उन्होंने कहा कि  विधायक लखविंदर सिंह राणा हल्की और गुमराह करने की राजनीति को छोड़ समर्पण, सेवा और विकास की राजनीति करें।