Saturday, September 26, 2020 08:24 PM

लद्दाख में सेना ने बढ़ाई तैनाती

 दौलत बेग ओल्डी और देपसांग इलाके में तनाव लगातार बरकरार

 टी-90 टैंक की रेजिमेंट भी चीन को जवाब देने के लिए मौजूद

नई दिल्ली-पैंगोंग लेक इलाके से पीछे हटने से इनकार के साथ ही चीन ने दौलत बेग ओल्डी और देपसांग प्लेन्स में 17 हजार जवान तैनात कर दिए हैं। मतलब एलएसी पर दुश्मन के इरादे ठीक नहीं हैं। इसके जवाब में भारत ने भी बड़ी संख्या में इन इलाकों में जवानों की तैनाती कर दी है। इसके अलावा टी-90 टैंक की रेजिमेंट चीनी सेना की किसी भी हरकत का जवाब देने के लिए वहां मौजूद है। इन दोनों इलाकों में पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की किसी भी हरकत का जवाब देने के लिए भारतीय सेना पूरी तरह से मुस्तैद है। यह तैनाती कराकोरम दर्रे के पास पेट्रोलिंग प्वाइंट 1 से लेकर देपसांग प्लेन्स तक की गई है। इस इलाके में चीन के 17 हजार जवान मौजूद हैं। चीन ने इन सैनिकों की तैनाती अप्रैल से मई के बीच में की है। इसके बाद वे इस इलाके में पीपी-10 से पीपी-13 तक भारतीय सेनाओं को निगरानी से रोक रहे हैं।

सरकारी सूत्र ने बताया कि टैंकों की मौजूदगी के चलते चीन के सैनिक कोई भी हिमाकत करने से बचेंगे। उनके लिए इस स्थिति में ऑपरेट करना मुश्किल होगा। डीओबी और देपसांग प्लेन्स के दूसरी तरफ  के इलाके में चीन ने जब अपना इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा करना शुरू किया था, तब यहां भारतीय सेना की माउंटेन ब्रिगेड और आर्म्ड ब्रिगेड ही निगरानी करती थी। हालांकि, अब इस इलाके में 15 हजार से ज्यादा जवान और कुछ टैंक रेजिमेंट भी तैनात कर दी गई हैं। जवानों और टैंकों को रोड और एयर रूट से यहां लाया गया है। सूत्र के  मुताबिक, चीन का इरादा इस इलाके में सड़क बनाना है, जो उसकी टीडब्ल्यूडी बटालियन हैडक्वार्टर को काराकोरम दर्रे से जोड़ती हो। इस कोशिश को भारत पहले भी नाकाम कर चुका है। अगर चीन अपने इरादे में कामयाब हो जाता है, तो उसकी सैनिक टुकडि़यों को इस इलाके में पहुंचने में कुछ घंटे ही लगेंगे। जबकि, अभी जी-219 हाइवे के जरिए ऐसा करने में 15 घंटे लगते हैं। पहले भी चीन ने पीपी-7 और पीपी-8 के पास भारतीय इलाके में अपनी ब्रिगेड को तैनात किया था, लेकिन कुछ साल पहले भारत ने उसे पीछे ढकेल दिया था। लद्दाख सेक्टर में कड़कड़ाती सर्दियों में भी लंबे टकराव के लिए भी भारतीय सेना पूरी तरह तैयार है। सेना ने यहां सर्दी और हालात से लड़ने के लिए पहले से ट्रेंड किए गए 35 हजार जवानों को तैनात किया है। ये जवान पहले ही ऊंचाई वाली जगहों और सर्दी के हालात में तैनात रह चुके हैं और ऐसे हालात से लड़ने के लिए दिमागी तौर पर तैयार हैं।

The post लद्दाख में सेना ने बढ़ाई तैनाती appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.