Monday, June 01, 2020 02:09 AM

लापरवाह न हो प्रदेश

-राजेश कुमार चौहान, सुजानपुर टीहरा

हिमाचल प्रदेश धीरे-धीरे कोरोना मुक्त होने की ओर बढ़ रहा था, लेकिन इसी बीच प्रदेश के मंडी जिले में एक कोरोना मरीज की मौत से प्रदेश को फिर से कोरोना की तरफ  मोड़ने की आहट समझना चाहिए। प्रदेश सरकार और प्रशासन को दूसरे राज्यों से घर वापसी करने वालों के प्रति जरा भी नरमी नहीं बरतनी चाहिए। प्रदेश की आम जनता को भी चाहिए कि कोरोना के खतरे को देखते हुए, आपको अगर आपके आसपास कोई ऐसा व्यक्ति दिखता है जो अवैध रूप से सरकार और प्रशासन की परमिशन के बिना दूसरी किसी जगह से सफर कर आया है तो उससे सतर्क रहें और अगर हो सके तो उसकी सूचना प्रशासन को दें। सभी की जिम्मेदारी बनती है कि वे भी इसके लिए जागरूक और गंभीर रहें। अगर किसी को भी इस वायरस के लक्षण खुद में या किसी जान-पहचान वाले में नजर आएं तो वे फौरन अस्पताल जाएं और ऐसे लोग घर से निकलने से परहेज़ करें, ताकि कोई दूसरा इस वायरस की चपेट में न आए और यह जानलेवा वायरस हमारे प्रदेश में पैर और ज्यादा न पसार सके। अंत में यह भी कहना उचित होगा कि कोरोना को हराने के लिए जो शारीरिक दूरी जैसे नियम अपनाए जा रहे हैं, उन्हें अगर भविष्य में जारी रखा जाए तो यह और भी छोटी-मोटी बीमारियों से बचाने के लिए एक कारगर उपाय सिद्ध हो सकता है और भविष्य में कोरोना जैसी महामारी को समय से पहले ही किसी की जान गंवाने से पहले ही हराया जा सकता है। साथ ही प्रकृति को संभालने की आदत भी हर किसी को डालने होगी।