Wednesday, April 24, 2019 05:22 AM

लाहुल पूछ रहा कब बजेगी फोन की घंटी

 केलांग—शेष विश्व से कटे लाहुल-स्पीति में ठप पड़ी दूरसंचार व्यवस्था राजनीति प्रतियाशियों की घंटियां जरूर बजाएगी। बीएसएनएल के खिलाफ जहां स्थानीय लोग गत पांच माह से मोर्चा खोले हुए हैं, वहीं कांग्रेस कार्यकर्ता भी इस मुद्दे को लेकर कुल्लू व लाहुल मंे प्रदर्शन कर रहे हैं। कांग्रेस कार्यकर्ता जहां विपक्ष में होने की बात कह प्रदेश करकार को घेर रही है, वहीं सत्ता में बैठे राजनेता बीएसएनएल अधिकारियों पर इसका ठिकरा फोड़ रहे हैं। बात कुछ भी हो लेकिन लोगों का कहना है कि लोक सभा चुनावों में राजनीतिक संगठनों के प्रत्याशियों को लाहुल मंे ठप पड़ी दूर संचार व्यवस्था का जवाब देना पड़ेगा। लोगों का कहना है कि चुनावी सीजन में तो राजनीतिक पार्टियों के प्रत्याशी लाहुल में मोबाइल नेटवर्क को दुरुस्त करने के बड़े-बडे़ दावे करते हैं। लोगों का कहना है कि चारों तरफ बर्फ की मोटी चादर बिछी होने के कारण लोग घरों से बाहर नहीं निकल पाते हैं, वहीं अपने सगे संबंधियों, दोस्तांे व जिला से बाहर रहने वाले परिवार के सदस्यों का हालचाल जानने के लिए उनके पास एक मात्र साधन मोबाइल फोन ही है, लेकिन लाहुल में वह भी गत पांच माह से शोपिस ही बने हुए हैं। जिला मु यालय को छोड़ कर घाटी के अन्य क्षेत्रों में जहां मोबाइल नेटवर्क का नाम तक नहीं है, वहीं देश-दुनिया में क्या चल रहा है, लोगों को इस बात का पता तक नहीं है। बीएसएनएल के अधिकारी इसके पिछे का कारण भारी बर्फबारी को बता रहे हैं, तो वहीं लोगांे का कहना है कि जिला मुख्यालय में तो सर्दियों में भी फोन दनादन बजते हैं, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में यह व्यवस्था काम नहीं करती है।  वहीं राजनीतिक संगठनों के लिए लोक सभा चुनावों में लाहुल के लोगों को ठप पड़ी दूरसंचार व्यवस्था पर जवाब देना गले की फांस बना गया है।

सड़कों पर उतर उठा रहे लोगांे की आवाज

लाहुल-स्पीति के पूर्व विधायक रवि ठाकुर का कहना है कि कांग्रेस कार्यकर्ता घाटी में दूर संचार व्यवस्था को बहाल करवानें के लिए लगातार प्रदर्शन व आंदोलन कर रहे हैं। उनका कहना है कि लाहुल में आज भी फोन सुचारू रूप से नहीं चल रहे हैं।

जल्द बहाल होगी व्यवस्था

लाहुल-स्पीति के विधायक एवं मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय का कहना है कि लाहुल में दूर संचार व्यवस्था पर काम किया जा रहा है। बीएसएनएल के अधिकारियों को युद्ध स्तर पर काम करने के लिए कहा गया है। घाटी में भारी बर्फबारी होने से कई स्थलों पर बीएसएनएल की ओएफसी कट गई है, जिस कारण नेटवर्क को लेकर दिक्कत आ रही है। निगम को जल्द से जल्द व्यवस्था बहाल करने के लिए कहा गया है।