Monday, October 21, 2019 09:02 AM

लाहुल में ‘जिस्पे आंगमों पर ’ धमाल

तीन दिवसीय पर्यटन उत्सव में लोक कलाकारों ने जमकर नचाए लोग

केलांग -जिस्पा में आयोजित पर्यटन उत्सव के अंतिम दिन लोक कलाकारों ने जमकर धमाल मचाया। तीन दिवसीय उत्सव में जहां लोगों को लाहुल की संस्कृति से रू-ब-रू होने का मौका मिला, वहीं लाहुली लोक गीतों पर लोग जमकर थिरके। शनिवार को पर्यटन उत्सव के समापन अवसर पर बतौर मुख्यातिथि पहुंचे लाहुल-स्पीति के विधायक एवं कृषि मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने आयोजकों को जहां उत्सव के सफल आयोजन की बधाई दी, वहीं उन्होंने लोक कलाकारों की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन घाटी में होने चाहिए और इस तरह के आयोजन से युवा पीड़ी को भी हमारी संस्कृति का पता चलता है और काफी कुछ सीखने को मिलता है। शनिवार को पर्यटन उत्सव में रमेश ठाकुर ने जहां कुल्लवी, लाहुली गानों की एक से बढ़ कर एक प्रस्तुतियां दीं, वहीं लाहुल-स्पीति के लोक गायत अनिल सूर्यवंशी ने भी लोगों को नचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। रमेश ठाकुर ने लाहुली गाना ‘जिस्पे आंगमो चला नी जाना’ की धमाकेदार प्रस्तुती से सबका दिल जीत लिया। यहां बतादें कि उक्त तीन दिवसीय पर्यटन उत्सव में जहां पड़ोसी राज्य नेपाल के कलाकरों ने भी अपनी रंगारंग सांस्कृतिक प्रस्तुतियां पेश कीं, वहीं लेह के कलाकरों का कार्यक्रम भी लोगों ने खूब सराह। बहरहाल लाहुल के जिस्पा में आयोजित पर्यटन उत्सव का समापन शनिवार को हो गया।