Thursday, October 24, 2019 02:06 AM

लाहुल में 12 साल बाद मनाया तिनन छेशु

शाशूर गोंपा के लामाओं ने छम नृत्य से लोगों को किया मंत्रमुग्ध 

केलांग -जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के मनिंग गांव में 12 सालों बाद तीनन छेशु मेले को धूमधाम से मनाया गया। तिनन  वैली छेशु  कमेटी व तिनन  वैली एडवेंचर स्पोर्ट्स क्लब के सौजन्य से 12 साल बाद तिनन छेशु को पुनः आरंभ किया गया, जिसमे स्थानीय लोगों के अलावा घाटी के समस्त लोगों ने शाशूर गोंपा, सिला गोंपा व दार्जलिंग से आए बौद्ध भिक्षुओं द्वारा मंत्र उच्चारण से छेशु मेले का शुभारंभ किया गया। शाशूर गोंपा के बौद्ध भिक्षुओं ने एतिहासिक मुखोटा नृत्य, छम पेश कर मेले में आए लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया व मंत्र उच्चारण से क्षेत्र को अलौकिक कर दिया। तिनन छेशु के सांस्कृतिक कार्यक्रम में कृषि मंत्री बतौर मुख्यातिथि पहुंचे। सांस्कृतिक संध्या की शुरुआत मुख्यातिथि द्वारा दीप प्रज्वलित कर की गई। तिनन वैली एडवेंचर स्पोर्ट्स क्लब के सदस्य व गोंधला पंचायत प्रधान सूरज ठाकुर ने मुख्यातिथि को स्मृति चिन्ह भेंट किया। मुख्यातिथि द्वारा समाज में उत्तम कार्य करने वाली चार विभूतियों को सम्मानित किया गया, जिसमें सर्वप्रथम रिटायर्ड कैप्टन नील चंद डोगरा को आठ हजार से ऊपर पीक्स को क्लाइंब करने के लिए, वेटरिनरी में उत्तम सेवाओं के लिए अशोक कुमार, बिजली बोर्ड के प्रेम चंद व लाला को सर्दियों में रिकार्ड बर्फबारी के बावजूद चंद्रा  घाटी में बिजली सेवाओं को सुचारू रखने के लिए व रक्तदान के क्षेत्र में उत्तम कार्यों के लिए सामाजिक संस्था के अध्यक्ष क्रिस ठाकुर को तिनन वैली अवार्ड ऑफ एक्सीलेंसी 2019 से मुख्यातिथि के कर कमलों से सम्मानित किया गया। सांस्कृतिक संध्या की शुरुआत बिंदु कला मंच यांगला द्वारा एक पारंपरिक लाहुली नृत्य पेश कर की गई। गोंधला स्कूल के छात्रओं द्वारा रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। स्टार नाइट में प्रसिद्ध गायिका रोजी शर्मा, गायक अनिल सूर्यवंशी , जोग चंद व सुनीता भारद्वाज ने अपने सुरों से लोगों को थिरकने पर मजबूर कर दिया । सांस्कृतिक संध्या के समापन समारोह पर तिनन वैली छेशु कमेटी के सदस्य व प्रधान गोंधला पंचायत सूरज ठाकुर ने सभी अतिथियों व कलाकारों का आभार व्यक्त किया गया।