Tuesday, March 31, 2020 08:07 PM

लाहुल-स्पीति की उड़ानों पर हंगामा

केलांग - जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति में हेलिकाप्टर की उड़ानों को लेकर मचा बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। गरुवार को जीएडी द्वारा जारी उड़ानों के शेड्यूल में हेलिकाप्टर को भुंतर हवाई अड्डे से तीन उड़ाने लाहुल के लिए भरनी थी, लेकिन हेलिकाप्टर दो ही उड़ाने जनजातीय जिला के लिए भर पाया। तीसरी उड़ान के लिए समय न बचने से जहां कबायलियों को एक बार फिर निराश होना पड़ा। ऐसे में लाहुल-स्पीति कांग्रेस ने इसे मुद्दा बनाते हुए एक बार फिर सरकार को घेरने की तैयारी कर डाली है। लाहुल-स्पीति के पूर्व विधायक रवि ठाकुर ने कहा कि गुरुवार को मौसम के साफ होने के बाद भी उड़ान समिति हेलिकाप्टर की सभी उड़ानों को समय पर नहीं करवा पाई है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को हेलिकाप्टर ने पहली उड़ान उदयपुर दूसरी उड़ान डाइट  व तीसरी सिस्सू-गोंदला के लिए भरनी थी, लेकिन हेलिकाप्टर गुरुवार को भुंतर ही देरी से पहुंचा, जिसका खामियाजा लाहुल के लोगों को उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि हेलिकाप्टर ने उदयपुर और डाइट की उड़ाने तो भर ली, लेकिन तीसरी उड़ान सिस्सू-गोंदला के लिए भरी जानी थी, जिससे समय के अभाव के कारण रदद कर दिया गया। उन्होंने कहा कि ऐसा तीसरी बार हुआ है जब सिस्सू के लिए हेलिकाप्टर की उड़ान रदद की गई है। उन्होंने कहा कि जनजातीय जिला के लिए करवाई जा रही हेलिकाप्टर की उड़ानों को जहां नियमित तौर पर नहीं करवाया जा रहा है, वहीं हेलिकाप्टर को कभी वीवीआईपी ड्यूटी पर भेजा जा रहा है, तो कभी हेलीकाप्टर देरी से भुंतर हवाई अड्डे पर पहुंच रहा है, जिस कारण लाहुल-स्पीति के लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रह है। उन्होंने कहा कि सरकार को लाहुल-स्पीति के लोगों की दिक्कतों को ध्यान में रख एक  विशेष चौपर का प्रबंध करना चाहिए जो नियमित तौर पर जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के लिए उड़ान भरे। उन्होंने कहा कि उड़ानों में इस तरह अव्यवस्था का दौर चलता रहा तो लाहुल-स्पीति कांग्रेस सरकार केर खिलाफ सड़कों पर उतर प्रदर्शन करने से भी पीछे नहीं हटेगी। उल्लेखनीय है कि जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति में जहां भारी बर्फबारी के बाद लोग घरों में कैद हो गए हैं, वहीं घाटी में पहुंचने व यहां से बाहर जाने के लिए लोगों के पास प्रदेश सरकार का हेलिकाप्टर ही एक मात्र ऐसा साधन है, जिस के माध्यम से वह लाहुल-स्पीति में आ जा सकते हैं। ऐसे में गुरुवार को भी सिस्सू में लोग हेलिकाप्टर का सुबह से ही इंतजार कर रहे थे। दोपहर बाद जब लोगों को यह सूचना मिली कि हेलिकाप्टर की उड़ना एक बार फिर रदद कर दी गई है, तो लोगों का सर्व का बांध टूट गया और लोगों ने प्रशासन व उड़ान समिति पर अव्यवस्था अपनाने के आरोप तक जड़ डाले। सिस्सू के ग्रामीणों का कहना है कि गुरुवार को मौसम साफ होने के बाद भी हेलिकाप्टर की उड़ान समय पर न होने से यह अपने आप में ही कई सवाल खड़े करता है। उनका कहना है कि सिस्सू के लिए तीसरी बार उड़ान का शेड्यूल रदद किया गया है। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा ही चलता रहा तो ग्रामीण प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे। उधर, उड़ान समिति के प्रभारी अशोक कुमार का कहना है कि हेलीकाप्टर की उड़ानों में कुछ देरी होने के कारण तीसरी उड़ान सिस्सू -गोंदला के लिए नहीं हो पाई। जीएडी ने शुक्रवार को सिस्सू के लिए उड़ान का शेड्यूल जारी किया है।