Wednesday, June 26, 2019 11:53 AM

लाहुल-स्पीति पहुंचाए भुंतर से 69 कर्मचारी

केलांग -कुल्लू में फंसे कर्मचारियों को चुनाव आयोग के आदेशों के बाद बुधवार को हेलिकाप्टर की विशेष उड़ानों के माध्यम से लाहुल पहुंचाया गया। चुनाव ड्यूटी में तैनात किए गए कर्मचारी जहां पिछले लंबे समय से जिला से बाहर फंसे हुए थे, वहीं कर्मियों के अभाव के कारण लाहुल में चुनाव आयोग की टीम को भी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। लाहुल-स्पीति में जहां 92 पोलिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं, वहीं 376 कर्मचारियों को इलेक्शन ड्यूटी पर तैनात किया गया है। इनमें से करीब 100 कर्मियों के जिला से बाहर फंस जाने के कारण लाहुल में चुनाव आयोग की टीम को दिक्कतों का सामन करना पड़ रहा था, या यूं कहें कि लाहुल मंे लोकसभा चुनावों की तैयारियां रफ्तार नहीं पकड़ पा रही थीं। ऐसे में जिला प्रशासन ने चुनाव आयोग को पत्र लिख यह मांग की थी कि जिला से बाहर फंसे इलेक्शन ड्यूटी के कर्मचारियों को जल्द से जल्द एयरलिफ्ट कर घाटी में पहुंचाया जाए, ताकि लाहुल-स्पीति में सफलता पूर्वक लोकसभा चुनावों को अंजाम दिया जा सके। ऐसे में बुधवार को भुंतर हवाई अड्डे से हेलिकाप्टर की तीन उड़ानें लाहुल के डाइट के लिए करवाई, जिसमें करीब 69 इलेक्शन ड्यूटी के कर्मचारियों को एयर लिफ्ट  किया गया, जबकि अन्य कर्मियों को गुरुवार को एयर लिफ्ट किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि भारी बर्फबारी के कारण लाहुल-स्पीति का संपर्क गत चार माह से शेष विश्व से कटा हुआ है, वहीं घाटी में पहुंचने का जरिया एक मात्र हेलिकाप्टर सेवा ही है। ऐसे में लोक सभा चुनावों का ऐलान होते ही जिला प्रशासन ने चुनाव आयोग के आदेशों के तहज घाटी 92 पोलिंग स्टेशन स्थापित किए, वहीं 376 कर्मचारियों को इलेक्शन ड्यूटी पर तैनात तो कर दिया, लेकिन प्रशासन की उस समय दिक्कतें और बढ़ गईं, जब इलेक्शन ड्यूटी पर तैनात किए गए करीब 100 कर्मचारी जिला से बाहर फंस गए। यह वे कर्मचारी थे, जो छुट्टियों पर जिला से बाहर गए हुए थे। ऐसे में हेलिकाप्टर की उड़ानांे में समय पर इन कर्मचारियों का नंबर नहीं लग पा रहा था और यह सभी कर्मी कुल्लू में ही फंसे हुए थे। लाहुल-स्पीति प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए चुनाव आयोग को पत्र लिया घाटी की स्थिति साफ करते हुए यह मांग रखी कि कुल्लू में फंसे इलेक्शन ड्यूटी के कर्मियों को लाहुल पहुंचाने के लिए हेलिकाप्टर की विशेष उड़ानांे की व्यवस्था की जाए, ताकि लाहुल-स्पीति में लोकसभा चुनावों की प्रक्रिया को सफलता पूर्वक अंजाम दिया जा सके। चुनाव आयोग ने लाहुल-स्पीति प्रशासन की इस मांग को मानते हुए जीएडी को हेलिकाप्टर की विशेष उड़ानें करवाने के आदेश दिए। लिहाजा बुधवार को भुंतर हवाई अड्डे से हेलिकाप्टर की तीन उड़ाने लाहुल के डाइट हेलिपैड के लिए करवाई गई, जिसमें 69 कर्मचारियों को लाहुल पहुंचाया गया।

क्या कहते हैं अधिकारी

 उड़ान समिति के प्रभारी अशोक कुमार का कहना है कि बुधवार को कुल्लू में फंसे इलेक्शन ड्यूटी पर तैनात किए गए लाहुल के कर्मचारियों को जनजातीय जिला भेजा गया है। उन्होंने बताया कि शेष अन्य कर्मियों को गुरुवार को भेजा जाएगा। आज इनके लिए होंगी विशेष उड़ानें भुंतर हवाई अड्डे से गुरुवार को एचआरटीसी के कर्मी व पुलिस जवानों के लिए हेलिकाप्टर की विशेष उड़ानें लाहुल के लिए होंगी। चुनाव आयोग के आदेशों के तहत इलेक्शन ड्यूटी पर तैनात कर्मियों को प्राथमिकता के अधार पर जनजातीय जिला पहुंचाया जा रहा है। उड़ान समिति के पास जीएडी ने गुरुवार को उड़ानों का शेड्यूल जारी कर दिया है।