लॉकडाउन ने नशे से दूर किए 60 फीसदी लोग

शिमला – हिमाचल प्रदेश में नशे की गिरफ्त में फंसे युवा जहां अपनी जिंदगी को तबाह कर रहे थे, वहीं लॉकडाउन ने उसी जिंदगी को बचा लिया। प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी से मिली जानकारी के अनुसार हिमाचल के 60 प्रतिशत नशा करने वाले लोग अब इस लत से पूरी तरह से बाहर निकल चुके हैं। हैरानी इस बात की है कि इन युवाओं को नशा करने के लिए कोई पदार्थ न मिलने की वजह से ही यह कामयाबी मिली है। बताया जा रहा है कि नशा छोड़ने में सफल रहने वाले लोगों में 40 प्रतिशत युवा छात्र हैं। इन्हें लॉकडाउन की वजह से घर पर नशीले पदार्थ, तंबाकू, चिट्टा, सिगरेट, शराब नहीं मिली, इस वजह से उनकी यह लत छूट गई। ऐसे में बड़ी बात यह है कि इतने सालों से जो काम नशा मुक्ति केंद्र, सरकार और प्रशासन का अमला नहीं कर पाया, वह कोरोना के इस संकट से बचने के लिए लगाए लॉकडाउन ने कर दिया। चिकित्सकों की मानें, तो अब जब शराब के ठेके खुल गए हैं, तो कई लोगों ने फिर से शराब पीनी शुरू कर दी है, जो कि चिंतनीय विषय जरूर बन रहा है। हैरान कर देनी वाली बात यह है कि नशा छोड़ने वाले 60 प्रतिशत लोगों ने डाक्टरों या फिर नशा मुक्ति केंद्र की सहायता नहीं मांगी है।

The post  लॉकडाउन ने नशे से दूर किए 60 फीसदी लोग appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.

Related Stories: