Monday, April 06, 2020 06:23 PM

लॉकडाउन..परवाणू में बैरियर से आगे नहीं जाने दिए लोग

परवाणू-कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री की हिमाचल में लॉकडाउन की घोषणा होते ही जिला सोलन के प्रवेशद्वार परवाणू में दूसरे प्रदेशों से आ रहे लोगों को बैरियर से आगे नहीं जाने दिया जा रहा है। लोकडाउन के चलते अति आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं को छोड़कर अन्य वस्तुओं सेवाओं को प्रतिबंधित कर दिया गया। प्राइवेट व निजी टैक्सी, ट्रांसपोर्ट की सेवाएं बंद कर दी गई है। अमर्जेंसी में ही टेक्सी प्राइवेट वाहनों को उपयोग में लाने बारे लोगों को कहा गया है। जनता को अगले आदेशों तक अपने-अपने घरों में रहने के लिए कहा जा रहा है। सोमवार को सरकारी प्राइवेट बसें सड़कों पर नहीं उतरी। सड़कें एकदम सुनसान रही कुछ लोग अपने घरों को जाने के लिए भी निकले लेकिन सार्वजनिक परिवहन न होने के चलते वापिस अपने निवास लौटना पड़ा। कुछ निजी वाहनों द्वारा प्रदेश के अपने मूल घर चले गए। फेक्टरी प्रबंधन ने उद्योगों को 31 मार्च तक बंद कर दिया और लोगों को घरों में बने रहने के लिए कहा गया। परवाणू उद्योग संघ ने अपने सदस्यों को उद्योग बंद करने बारे नोटिस जारी करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी। 31 मार्च के बाद ही स्थिति का आंकलन कर उद्योग संघ उद्योग खोलने बारे निर्णय लेगा। समाचार लिखे जाने तक कुछ उद्योग बंद की घोषणा के बाद भी प्रबंधन ने चालू रखा हुआ था। फिलहाल हालत काबू में है लोगों द्वारा हालत को देखते हुए घर के उपयोग में आने वाली सब्जी, राशन के सामान को मार्किट से खरीदारी की गई। नप परवाणू ने संपति कर को जमा करने के लिए लोगों को ऑनलाइन माध्यम से 30 मार्च तक अपना बकाया टेक्स जमा किया जा सकता है। नप परवाणू ने सोमवार को भी सिरमौर चौक, ईडब्ल्यूएस  फ्लेट सेक्टर 1, एचपीएमसी, हॉर्टिकल्चर नर्सरी व अन्य स्थानों को सेनिटाइज किया। नप ने लोगों को अनावश्यक कार्यों के लिए नप न आने की हिदायत जारी की है।