Thursday, July 09, 2020 07:08 PM

वन मंत्री ले रहे क्वारंटाइन सेंटरों का जायजा

गोविंद सिंह ठाकुर ने बाहर से आए लोगों से की सहयोग की अपील

कुल्लू-प्रदेश सरकार के विशेष प्रयासों से हाल ही में बाहरी राज्यों से लाए गए लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन सेंटरों में ठहराया गया है।  बाहरी राज्यों में फंसे प्रदेश के लोगों के दर्द को समझते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने त्वरित कदम उठाए। प्रदेश सरकार ने बाहरी राज्यों में फंसे हिमाचली लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए एक बड़ी पहल करते हुए हर राज्य के लिए नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की। आईएएस स्तर के इन नोडल अधिकारियों के मोबाइल नंबर और अन्य हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए। इसके अलावा ऑनलाइन पास की सुविधा भी आरंभ की गई।   प्रदेश सरकार ने इससे आगे बढ़ते हुए केरल, बंगलूरू, गोवा, मुंबइ, अहमदाबाद, दिल्ली और देश के अन्य राज्यों से ऊना और पठानकोट तक सीधी रेलगाडि़यों की व्यवस्था करवाई। ऊना और पठानकोट के रेलवे स्टेशनों से एचआरटीसी की बसों के माध्यम से लोगों को सीधे संबंधित जिलों के क्वारंटाइन सेंटरों तक पहुंचाया गया। इन लोगों की हौसला अफजाई तथा क्वारंटीन सेंटरों में सभी आवश्यक सुविधाओं की समीक्षा के लिए वन, परिवहन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर स्वयं नियमित रूप से सेंटरों के दौरे कर रहे हैं।

प्रदेश के प्रयासों की सराहना

उधर, मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर का कहना है कि बाहरी राज्यों में फंसे हजारों लोगों को वापस लाने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने एक सुनियोजित एवं पुख्ता व्यवस्था बनाई है। इन सभी लोगों को पूरी सावधानी तथा सुविधाजनक ढंग से वापस लाया गया है। वन मंत्री ने कहा कि ये लोग प्रदेश सरकार के प्रयासों की प्रशंसा कर रहे हैं। इनमें से कई लोगों ने पीएम केयर्स फंड और एचपी एसडीएमए कोविड-19 एसडीआर फंड में आर्थिक योगदान भी दिया है। मंत्री ने कहा कि गोवा से लौटे तथा बंदरोल स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में क्वारंटाइन किए गए लोगों ने एचपी कोविड फंड में 51 हजार रुपए का अंशदान करके एक मिसाल कायम की है।

The post वन मंत्री ले रहे क्वारंटाइन सेंटरों का जायजा appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.