Wednesday, August 12, 2020 06:56 AM

वापस लें एयरपोर्ट का फैसला

बल्ह बचाओ किसान संघर्ष समिति ने सड़कों पर उतरने का किया ऐलान

नेरचौक - बल्ह बचाओ किसान संघर्ष समिति के आह्वान पर प्रस्तावित हवाई अड्डे को लेकर 11 गांवों के किसानों ने कंसा चौक में हुई बैठक में भाग लिया। जिसमें हवाई अड्डे के विरोध में किसानों ने सड़कों पर उतरने का ऐलान कर दिया है। समिति के मुताबिक बैठक में सभी किसानों ने एकमत से बल्ह में हवाई अड्डे के निर्माण का विरोध किया और यह फैसला लिया गया कि यदि सात जनवरी से पहले मंत्रिमंडल का फैसला वापस नहीं लिया जाता है तो आठ जनवरी को अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति के आह्वान पर ग्रामीण भारत बंद में हिस्सा लेंगे और मंडी में होने वाली रैली में भाग लिया जाएगा। इसके उपरांत उपमंडल अधिकारी बल्ह के माध्यम से ज्ञापन सौंपते हुए पुनः मांग की गई है कि कोई भी फैसला लेने से पहले संघर्ष समिति से वार्ता की जाए। अन्यथा किसानों के पास संघर्ष के सिवाय कोई विकल्प नहीं बचेगा। बैठक में समिति ने चिंता प्रकट की कि प्रस्तावित हवाई अड्डे से बल्ह की उपजाऊ भूमि 3500 बीघा सारी खत्म हो जाएगी। यहां से करीब 2000 घर और 10000 से अधिक की आबादी उजड़ जाएगी। समिति के मुताबिक प्रस्तावित हवाई अड्डे को लेकर पिछले एक साल से संघर्ष समिति लगातार संघर्षरत है और कई बार मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी भेज चुकी है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री उड्डयन मंत्रालय, अल्पसंख्यक आयोग, अनुसूचित जाति-जनजाति आयोग और अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग को भी ज्ञापन भेजे गए हैं, परंतु अभी भी सरकार लगातार हवाई अड्डे के मुद्दे पर आगे बढ़ रही है और कोई ऐसा फैसला नहीं लिया गया है कि प्रस्तावित परियोजना बल्ह से बदल कर दूसरी जगह ले जाई जाएगी। किसानों ने मुख्यमंत्री के इस बयान का स्वागत किया है कि बल्ह की उपजाऊ भूमि की कीमत ज्यादा है। हवाई अड्डे की लिए दूसरी जगह तलाशी जाएगी, लेकिन इस बात पर रोष प्रकट किया कि मंत्रिमंडल में फैसला लिया गया , जिसमें निदेशक पर्यटन विभाग को निर्देशित किया गया है कि वह एयरपोर्ट अथारिटी के साथ एमओयू साइन करें, जिसके तहत बल्ह में ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट निर्माण का प्रस्ताव है। बैठक को बल्ह बचाओ किसान संघर्ष समिति के सचिव नंदलाल वर्मा, पूर्व प्रधान डडौर पंचायत प्रेम सिंह सैणी, पूर्व प्रधान कनेड़ पंचायत भुवनेश्वर लाल, चुन्नी लाल, भवानी सिंह, हरिराम, राजेश शर्मा, हलिम अंसारी, गुलाम रसूल, प्रेमदास चौधरी, दिलाराम, बल्ह किसान सभा अध्यक्ष परसराम और समिति के अध्यक्ष जोगेंद्र वालिया ने संबोधित किया।