Thursday, September 19, 2019 10:49 PM

विपक्ष ढ़ूंढ रहा बहाने जश्न के मूड में एनडीए

एग्जिट पोल विपक्ष का हौसला तोड़ने का षड्यंत्र

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वढेरा ने चुनाव बाद सर्वेक्षणों (एग्जिट पोल) को  विपक्ष का हौसला तोड़ने का षड्यंत्र बताते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से हिम्मत बनाए रखने और मतदान केंद्रों पर कड़ी नजर रखने की अपील की है। श्रीमती वढेरा ने यहां जारी एक संदेश में कहा कि एग्जिट पोल के परिणाम सिर्फ विपक्ष का हौसला तोड़ने के लिए प्रचारित किए जा रहे हैं, इसलिए इस तरह के प्रचार और अफवाहों पर ध्यान देने की बजाय सावधान और सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि ‘प्यारे कार्यकर्ताओं, बहनों और भाइयों, अफवाहों और एग्जिट पोल से हिम्मत मत हारिए। ये आपका हौसला तोड़ने के लिए फैलाई जा रही हैं। इस बीच आपकी सावधानी और भी महत्त्वपूर्ण बन जाती है। स्ट्रांग रूम और मतगणना केंद्रों में डटे रहिए और चौकन्ने रहिए। हमें पूरी उम्मीद है कि हमारी मेहनत और आपकी मेहनत फल लाएगी। गौरतलब है कि ज्यादातर एग्जिट पोल से कांग्रेस, अन्य विपक्षी दलों और उनके समर्थकों  तथा कार्यकर्ताओं में मायूसी का माहौल है।

पीएम मोदी का विजेता के अंदाज में किया स्वागत

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 का रिजल्ट आने में अभी भले ही 40 घंटे से ज्यादा का वक्त बचा है, लेकिन पीएम मोदी समेत पूरा एनडीए अभी से ही जश्न के मूड में दिख रहा है। मंगलवार को पीएम मोदी एनडीए के सहयोगी दलों के साथ बैठक की। बैठक में जिस तरह एनडीए का पूरा कुनबा आह्लादित दिखा, उससे लग रहा कि सभी को यकीन हो चला है कि जिस तरह एग्जिट पोल उनके मुफीद रहा है, ठीक वैसे ही रिजल्ट भी रहने वाले हैं। शाम को चाय के बाद रात को पीएम मोदी ने सभी को शानदार दावत भी दी। बैठक से पहले पीएम मोदी का गर्मजोशी के साथ इस्तकबाल किया गया। हालांकि यह औपचारिकता ही होती है, लेकिन इस बैठक में जिस प्रकार पीएम मोदी का स्वागत किया गया, वह काबिलेगौर है।

एग्जिट पोल नहीं; मनोरंजन पोल, असली पोल 23 मई को

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विभिन्न समाचार माध्यमों के एग्जिट पोल पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि यह एग्जिट पोल नहीं, मनोरंजन पोल है। पोल तो 23 मई को खुलेगी। कमलनाथ ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि एग्जिट पोल की जो परंपरा बनाई गई है, इनके रुझानों पर ही जश्न मना लो। सच्चाई 23 तारीख को सामने आएगी। सोशल मीडिया पर ईवीएम का एक नया घोटाला सामने आ रहा है। वह कितना सही है और कितना सही नहीं है, वह 23 मई को सामने आ जाएगा। वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को कहा भारतीय जनता पार्टी इसके पहले चार बार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करा चुकी है और अगर फिर से कराना चाहती है तो उसका स्वागत है।

मुंबई में भाजपा ने दिया दो हजार किलो लड्डू बनाने का ऑर्डर

मुंबई। लोकसभा चुनाव को लेकर एग्जिट पोल्स आ चुके हैं और नतीजे आने में भी दो दिन का वक्त है, लेकिन बीजेपी में सर्वे के बाद से ही जबरदस्त उत्साह है। स्थिति यह है कि मुंबई में तो बाकायदा मिठाई के ऑर्डर कर दिए गए हैं। मुंबई के बोरिवली में स्थित एक दुकान में पीएम मोदी का मास्क पहन लड्डू बांधने की तस्वीरें सामने आई हैं। मिठाई की दुकान के मालिक ने इस संबंध में पूछे जाने पर बताया कि हमें बीजेपी उत्तर मुंबई लोकसभा सीट से बीजेपी के कैंडीडेट गोपाल शेट्टी से 1,500 से 2,000 किलो तक मिठाई बनाने का ऑर्डर मिला है। मिठाई बनाने वाले कारीगर काफी उत्साहित हैं। इसलिए वह मोदी मास्क पहनकर ही काम कर रहे हैं।

शिवसेना ने की राहुल प्रियंका की तारीफ

मुंबई। एग्जिट पोल के नतीजों से शिवसेना ने भरोसा जताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार दोबारा सत्ता में आएगी। इसके साथ ही शिवसेना ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वढेरा की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने चुनाव में कड़ी मेहनत की। शिवसेना ने यह भी कहा कि नई लोकसभा में उनकी पार्टी को विपक्ष के नेता पद के लिए पर्याप्त सीटें मिल जाएंगी। पार्टी ने ‘सामना’ में लिखा है कि ‘मोदी सरकार दोबारा चुनकर आएगी, ऐसा कहने के लिए अब राजनीतिक पंडितों की कोई आवश्यकता नहीं है। जमीनी हालत ऐसी थी कि लोग मोदी को सत्ता में लाने के लिए अपना मन बना चुके थे।’

चुनाव आयोग के खिलाफ सिसोदिया का विवादित बयान

नई दिल्ली। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ईवीएम को लेकर सोशल मीडिया पर आ रही कथित रिपोर्टों पर चुनाव आयोग और मीडिया के खिलाफविवादित बयान दिया। सिसोदिया ने ट््विटर पर लिखा कि ‘झांसी, मेरठ, गाजीपुर, चंदौली और सारण हर जगह मतगणना केंद्रों पर मशीनें बदली जा रही हैं,  लेकिन चुनाव आयोग और तथाकथित मीडिया मोदी के सामने नतमस्तक आंखों पर पट्टी बांधे घुटनों के बल बैठा है। जनता ने मोदी के खिलाफ वोट दिया है उसे मीडिया और चुनाव आयोग मिलकर बदल रहे हैं।’

एग्जिट पोल के अनुमान चुनाव नतीजे नहीं

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा है कि एक्जिट पोल को देश की जनता ठीक तरह से समझती है और उसे मालूम है कि मतदान बाद सर्वेक्षणों के अनुमान चुनाव के परिणाम नहीं होते हैं फिर भी ऐसा माहौल बनाया जा रहा है जैसे एक्जिट पोल ही चुनाव परिणाम हों। कांग्रेस प्रवक्ता राजीव शुक्ला ने कहा कि माहौल बदलने का प्रयास किया जा रहा है, इसीलिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वढेरा को इस संबंध में संदेश देना पड़ा कि एक्जिट पोल के अनुमान को चुनाव परिणाम के तौर पर प्रचारित करना विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं का हौसला तोड़ने का प्रयास है इसलिए अफवाहों पर ध्यान देने की बजाय सावधान और सतर्क रहने की जरूरत है।