Monday, June 01, 2020 02:29 AM

शारीरिक दूरी बहुत जरूरी

-राजेश कुमार चौहान, सुजानपुर टीहरा

लॉकडाउन में कुछ ढील देते हुए अब कुछ राज्यों में कुछ प्राइवेट और सरकारी कार्यालय खुलेंगे। कोरोना देश में भयानक रूप न ले पाए, इसके लिए सरकार ने देश की चिंता करते हुए लॉकडाउन का फैसला लिया था। इस कारण एक लंबे अरसे तक सरकारी और प्राइवेट ऑफिस भी बंद करने पड़े, लेकिन सरकार ने देश की आर्थिक व्यवस्था की चिंता करते हुए और लोगों की रोजी-रोटी के साधनों तक पहुंच बनाने के लिए लॉकडाउन में कुछ ढील देते हुए सरकारी और प्राइवेट सेक्टर के ऑफिस खोलने की मंजूरी दे दी है। अब कोरोना के खतरनाक माहौल में कर्मचारियों को ऑफिस में कोरोना के जहरीले नाग का हमेशा डर बना रहेगा, लेकिन इससे बचने के तौर-तरीकों तथा सरकार और प्रशासन के इसके प्रति नियमों का पालन किया जाए तो फिर डरने की जरूरत नहीं है। मास्क और ग्लव्ज का प्रयोग भी उचित तरीकों से करना होगा।  सोशल डिस्टेंसिंग का भी गंभीरता से पालन होना चाहिए। उद्योगों और कारोबारियों को चाहिए कि वे अपने यहां कोविड-19 से बचने के पुख्ता इंतजाम करते हुए अपना कारोबार चलाएं। ऐसा करके देश को भारी आर्थिक नुकसान होने से भी बचाया जा सकता है।