Friday, August 14, 2020 01:39 PM

शिमला में लोकल सब्जियों की बढ़ी डिमांड

शिमला-शिमला की सब्जी मंडी में इन दिनों बाहरी राज्यों से सब्जियों की सप्लाई नियमिल रूप से हो रही है। ऐसे में लोगों को शिमला में फ्रेश सब्जियां मिल रही है। वहीं लोग भी इन दिनों अपने घरों में हरी सब्जियां अधिक खरीद रहें है। हरी सब्जियां जहां ताकतवर होती है। वहीं स्वास्थ्य के लिए भी अच्छी रहती है। लोग हरी ताजा फ्रेश सब्जियों को देख कर खरीद रहें है। ऐसे में शिमला की सब्जी मंडी में हर रोज कर्फ्यू में दी जा रही ढि़ल के दौरान लोग अपने घरों में सब्जियां अधिक खरीद रहें है। खास तौर पर लोग इन दिनों प्याज और आलू सहित मटर की खरीददारी अधिक कर रहें है। वहीं सब्जियों के दामों की बात करें तो कु छ खास बढ़ोतरी नहीं हुई है। गौर रहें कि करसोग व ऊपरी शिमला के इलाकों से हरी मटर पहुंचना शुरू हो गई है। अभी सीजन की शुरुआत ही है, इसलिए कम मात्रा में ही करसोग व ठियोग के निचले इलाकों से कुछ वाहन विभिन्न मंडियों में पहुंचे। राज्य में जारी लॉक डाउन के चलते अभी ढली मंडी में अधिकतर आढ़तियों ने काम शुरू नहीं किया है और कुछ चुनिंदा दुकानें खुली रहीं है। वहीं ढली व ठियोग मंडी में मटर 35 से 42 रुपए प्रति किलो की दर से बिका। ठियोग की सैंज, बलग, नहौल, टियाली सतोग, मुंडू सहित सिरमौर के गिरिपार की करीब आधा दर्जन पंचायतों में मटर की फसल बिल्कुल तैयार है। ऐसे में आगे भी अभी मटर की आमद में काफी वृद्धि आने के आसार हैं। नहौल पंचायत के किसानों दलीप वर्मा, बेलीराम, साध राम, मुकेश, ओम सिंह, राकेश, हीरा सिंह, केवल राम, संतराम, लायक राम, सुरेन्द्र सिंह, सुनील दत्त, चतर सिंह आदि का कहना है कि सब्जी को मंडियों में ले जाने के लिए सरकार द्वारा वाहनों को बिना कर्फ्यू पास के अनुमति है लेकिन अधिकतर वाहन चालक अभी भी सब्जी ले जाने से गुरेज कर रहे हैं।