Monday, January 27, 2020 02:54 AM

शिवसेना की मांगें किसी सूरत नहीं होंगी स्वीकार

नई दिल्ली - भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने महाराष्ट्र में चल रहे सियासी घटनाक्रम पर पहली बार मुंह खोलते हुए बुधवार को कहा कि महाराष्ट्र में सरकार के गठन को लेकर शिवसेना की मांग किसी भी हालत में स्वीकार्य नहीं है। शाह ने कहा कि कई बार मैं और पीएम नरेंद्र मोदी सार्वजनिक तौर पर कह चुके थे कि अगर हमारा गठबंधन चुनाव जीतेगा तो देवेंद्र फड़नवीस सीएम होंगे। उस समय किसी ने इसका विरोध नहीं किया था। अब वे नई मांग के साथ सामने आए हैं, जिसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है। शाह ने राष्ट्रपति शासन लगाने के राज्यपाल के कदम का समर्थन करते हुए कहा कि इससे पहले सरकार गठन के लिए इतना वक्त किसी राज्य में नहीं दिया गया था। 18 दिन का समय दिया गया। राज्यपाल में सभी पार्टियों को तभी बुलाया, जब विधानसभा का कार्यकाल समाप्त हो गया। शिवेसना, कांग्रेस, एनसीपी और न हमने सरकार बनाने का दावा किया। अगर आज भी किसी दल के पास नंबर है तो वह राज्यपाल के पास जा सकता है। शिवसेना दो दिन मांग रही थी, राज्यपाल ने छह महीने का मौका दे दिया है।