Saturday, January 25, 2020 11:35 PM

शेष विश्व से कटा रोहडू-चौपाल

शिमला - जिला शिमला में बर्फबारी ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। भारी बर्फबारी के कारण जिला के चौपाल व रोहडू का संपर्क शेष विश्व से कट गया है। कुफरी-फागू में सड़क पर बर्फबारी के बाद फिसलन होने के कारण नारकंडा, ठियोग, मतियाना, कोटखाई के लिए भी बस सेवा बंद हो गई है। गुरुवार को दोपहर बाद शिमला से ऊपरी शिमला के लिए कोई बस नहीं भेजी गई। रामपुर व किन्नौर के लिए पथ परिवहन निगम द्वारा मशोबरा होकर बसें भेजी जा रही हैं। जिला में बर्फबारी के कारण एचआरटीसी के करीब 80 बस रूट प्रभावित हुए हैं। जिला शिमला में बीते बुधवार रात को ही बर्फबारी का सिलसिला शुरू हो गया था, जो क्रम गुरुवार को दिन भर जारी रहा। जिला के ऊपरी क्षेत्रों में दिन के समय रुक-रुक कर बर्फबारी होती रही। एचआरटीसी के मंडलीय प्रबंधक पंकज सिंघल ने बताया कि वाया कुफरी होते हुए ऊपरी शिमला के लिए दोपहर बाद कोई बस नहीं भेजी गई है। रामपुर व किन्नौर के लिए वाया मशोबरा होकर बसें भेजी जा रही हैं। चौपाल व रोहडू के लिए बस सेवा ठप रही।

एचआरटीसी के इन डिपुओं के रूट प्रभावित

निगम प्रबंधन से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्रामीण के 21, शहर के दो, तारादेवी-नेरवा के 25, रोहड़ू के 12, रामपुर का एक व रिकांगपिओ के 19 बस रूट प्रभावित हुए हैं।

ऊपरी शिमला मे लगता रहा जाम

ऊपरी शिमला में बर्फ बारी के चलते जाम की स्थिति बनी रही। कुफरी व फागू में कई जगह पर वाहनोें के स्किड होने से दिन के समय जाम लगता रहा। वहीं नारकंडा में भी दिन के समय वाहनों के फंसने से सड़क पर जाम की स्थिति कायम रही।

मार्ग बहाल होने पर ही भेजी जाएंगी बसें

हिमाचल पथ परिवहन विभाग द्वारा जिला के उन क्षेत्रों में ही बसें भेजी जा रही हैं। जहां पर मार्ग पूरी तरह से साफ चल रहे हैं। गुरुवार सुबह के समय नारकंडा में भी निगम की एक बस स्किड होने के चलते पैराफिट में जा अटकी थी। ऐसे में बसों के संचालन में निगम द्वारा पूर्ण रूप से ऐहतियात बरती जा रही है।