Tuesday, September 17, 2019 03:58 PM

सभी जिलों के दिव्यांग जेबीटी की सूची जारी करें

चंडी  - उपनिदेशक एलिमेंटरी शिमला द्वारा 19 अगस्त को डीसी ऑफिस शिमला में दिव्यांग टैट मैरिट व बैचवाइज काउंसिलिंग का आयोजन किया गया, लेकिन इस काउंसिलिंग में अन्य जिलों से आए अभ्यर्थियों के प्रार्थना पत्र को स्वीकार नहीं किया गया। हाल ही में 10 मार्च 2019 में टैट मैरिट के आधार पर जेबीटी की नियुक्तियां दी जा चुकी हैं, जिसमें नियुक्त अभ्यर्थी अन्य जिलों से भी संबंध रखते हैं। 19 अगस्त 2019 को दिव्यांग जेबीटी की नियुक्ति हेतु आवेदन पत्र मांगे गए थे, जिसमें अन्य जिलों से आए अभ्यर्थियों के पत्रों को नहीं स्वीकारा गया। शिक्षा उपनिदेशक एलिमेंटरी द्वारा कहा गया कि शिमला जिला की ये नियुक्तियां जिलावार ही भरी जाएंगी अन्य जिलों से आए अभ्यर्थियों के पत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे। इस समस्या को लेकर अभ्यर्थी प्रारंभिक शिक्षा निदेशक से मिले, जिन्होंने अभ्यर्थियों के पक्ष में बताया कि पहले भी अन्य जिलों से आए अभ्यर्थियों की नियुक्तियां की जा चुकी है। प्रारंभिक शिक्षा निदेशक ने उपनिदेशक एलिमेंटरी शिमला से बात की कि वह दिव्यांग शैल से सभी जिलों के दिव्यांग जेबीटी की सूची जारी करें और त्वरित कार्रवाई करते हुए काउंसिलिंग की नई तिथि घोषित करें और जब भी नई तिथि निर्धारित की जाए उसकी सूचना समाचार पत्रों के माध्यम से प्रदेश भर में दी जाए।  शिक्षा निदेशक से मिलने के बाद जब वे दोबारा उपनिदेशक से मिला तो उन्होंने विश्वास दिलाया कि दिव्यांग सैल में बात की जाएगी व दोबारा काउंसिलिंग की तिथि निर्धारित की जाएगी। अभ्यर्थी कृष्णकांत, प्रवीण, बबलू, वीरेंद्र, पुष्पा ठाकुर, गुरमीत अत्री ने बताया कि 2017 से पहले जेबीटी की नियुक्तियां जिलावार की जाती थी परंतु हाईकोर्ट शिमला के आदेश संख्या 0ए 4917/17, 9 मई 2017 के अनुसार किसी भी जिला का अभ्यर्थी जेबीटी की काउंसिलिंग में किसी भी जिला में भाग ले सकता हैं।